Police registered a case in the cheating of Rs.4999 but there is no satisfactory investigation by the police in the matter of Cyber-crime



संदर्भ संख्या : 60000230176694 , दिनांक - 30 Sep 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-60000230176694

आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh

विषय-Home Affairs >> Crime related (Records, prisons and cyber cell)  The matter concerns the banking fraud of Rs.4999 which has been transferred to Federal Bank. An application on behalf of Keshav Pratap Singh son of Rajendra Pratap Singh under Article 51 A of the constitution of India against the cheating committed by the fraudulent elements. The address of the aggrieved applicant is as follows. Village and Post Nibi Gaharwar police station-Vindhyachal and District Mirzapur The matter concerns the fraudulent transaction of rupees 4999 from IPPB Account-059610182519 to the account Opened by the fraudulent elements in the federal bank whose last 4 digit is 6073 quite obvious from the first page which is the attached screen sort to the attached pdf documents to the grievance. The description of the matter is as follows. The wife of the applicant Abha Singh made call by her mobile number-9628993985 to the customer care number-155260 Who introduced to her as the customer care of Indian post payment bank named Sumit Kumar and this number was bounce to the new number-6290226995. The last portion of the conversation has been taped by the wife of the applicant. This is a humble request of the applicant to make inquiry into the matter and freeze the account in which money of the applicant has been transferred by the fraudulent elements. PDH documents attached to the grievance, contains passbook of Indian Post Payment Bank and attached screenshot of the fraudulent transactions.

विभाग -गृह एवं गोपनशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-27-09-2023शिकायत की स्थिति-

स्तर -शासन स्तरपद -अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित दिनांक आदेश आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति आपत्ति देखे संलगनक

1 अंतरित लोक शिकायत अनुभाग - 1(, मुख्यमंत्री कार्यालय ) 12-09-2023 कृपया शीघ्र नियमानुसार कार्यवाही किये जाने की अपेक्षा की गई है। अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव -गृह एवं गोपन 25-09-2023 अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित निक्षेपित

2 अंतरित अपर मुख्य सचिव/प्रमुख सचिव/सचिव (गृह एवं गोपन ) 13-09-2023 नियमनुसार आवश्यक कार्यवाही करें वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षक-मिर्ज़ापुर,पुलिस 25-09-2023 महोदय, जाँच आख्या संलग्न है।

विवरण हेतु क्लिक करें... निस्तारित

3 आख्या वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षक (पुलिस ) 13-09-2023 आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें अपर पुलिस अधीक्षक -मिर्ज़ापुर,पुलिस 23-09-2023 आख्या अवलोकनार्थ सादर सेवा में प्रेषित है।

विवरण हेतु क्लिक करें... निस्तारित

4 आख्या अपर पुलिस अधीक्षक (पुलिस ) 14-09-2023 आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त-क्षेत्राधिकारी , नगर ,जनपद-मिर्ज़ापुर 21-09-2023 संदर्भित प्रकरण मे गहराई से जॉच किया गया तथा प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली कटरा से आख्या प्राप्त किया गया तो पाया गया कि आवेदक उपरोक्त पते की निवासी है। जांच से ज्ञात हुआ कि सम्बन्धित प्रकरण में आवेदक के तहरीर के आधार पर थाना स्थानीय पर दिनांक 20.09.2023 को मु0अ0सं022623 धारा 420 भादवि व 66डी आईटी बनाम कस्टमर केयर नं0 155260 का कॉल रिसीवर सुमित कुमार कस्टमर केयर इण्डियन पोस्ट पेमेण्ट बैंक पंजीकृत किया गया है जिसकी विवेचना निरीक्षक श्री अरविन्द कुमार यादव द्वारा की जा रही है। विवेचना का गुणदोष

विवरण हेतु क्लिक करें... निस्तारित

5 आख्या क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त (पुलिस ) 15-09-2023 आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-कोतवाली कटरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस 20-09-2023 श्रीमान् जी आख्या संलग्न है।

विवरण हेतु क्लिक करें... निस्तारित

Beerbhadra Singh

To write blogs and applications for the deprived sections who can not raise their voices to stop their human rights violations by corrupt bureaucrats and executives.

Post a Comment

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

Previous Post Next Post