Land mafia activities are in full swing in the current government and assurance to take action against mafia proved election rhetoric


Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2023/0036843

Grievance Concerns To

Name Of Complainant

Yogi M. P. Singh

Date of Receipt

07/06/2023

Received By Ministry/Department

Uttar Pradesh

Grievance Description

OSK Infrabuild Pvt. Ltd. Offering Commercial plots in our Projects at Prayagraj.

Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2023/0107709 Grievance Concerns To Name Of Complainant Yogi M. P. Singh Date of Receipt 24/05/2023 Received By Ministry/Department Prime Ministers OfficeGrievance Description-Real estate fraud, land mafia having the patronage of the staff of Tehsil Phoolpur, district Prayagraj, looting the innocent and gullible people in the broad daylight. Yogi Aditya Nath Government is mute spectator of it.The matter concerns the working of the Sub Divisional Magistrate Tehsil-Phoolpur, District-Prayag Raj, Uttar Pradesh

आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40017523019038आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh विषय-राजस्व निरीक्षक सुप्रीम कुमार सिंह क्या आप इस भूमाफिया को नहीं जानते जिसने 7 बीघे जमीन पर प्लाटिंग की और किसी को भी प्लाट पर कब्जा नहीं दिया आधा दर्जन प्रार्थना पत्रों को आपने नजरअंदाज किया क्या आप की यही ईमानदारी है भूमि का प्रकार आवासीय भूमि2. ग्राम. बेला सैलाबी कछार, 3. परगना झुंसी4. तहसील फूलपुर, 5. जिला प्रयागराज6. विवरण सम्पत्ति आराजी सं० आराजी सं० 1066रकबा 047000 व 1067 रकबा 0.7000हे0 कुल 2 गाटा योग रकबा 1,1700हे0 में अपने हिस्से में से 111.11 वर्गगज यानी 93.33 वर्गमीटर आवास हेतु बय किया ।केशव प्रताप सिंह Landlord did not provide the possession of the land yet reflects insolence on his part. More details of land attached to grievance.

प्राप्त फीडबैक -दिनांक06-06-2023 को फीडबैक:-महोदय कम से कम सुप्रीम कुमार सिंह जो कि कानूनगो है प्रकरण को तो समझ गए किंतु प्रश्न यह उठता है कि अभी भी प्रकरण को छुपाने का प्रयास कर रहे हैं यहां पर प्रकरण भूमाफिया से संबंधित है भू माफिया का मतलब यह नहीं होता कि कोई क्रिमिनल हो और हार्डकोर क्रिमिनल हो वही भूमाफिया हो सकता है जो भी व्यक्ति जमीन की खरीद-फरोख्त में गड़बड़ी करें बहुत बड़े स्केल पर वह भी भूमाफिया है यहां पर जो विक्रेता है 7 बीघा जमीन खरीद लिया है और वह पूरी जमीन बेचने के बाद भी किसी को कब्जा नहीं दिया है आज न्यायालय की शरण लेने की बात कह रहे हैं कानूनगो महोदय भूमाफिया से सांठगांठ करके अधिकारी इस ढंग से बड़े स्केल पर जमीनों का सौदा कराएंगे जिसमें भूमाफिया ने भी पर्याप्त पैसा कमाया सरकार को रजिस्ट्री के माध्यम से भी पर्याप्त पैसा मिला और अधिकारियों की जेब में भी भरी गई किंतु खरीदने वाले को कुछ नहीं मिला अब उसको यह सलाह दे रहे हैं कि वह जाकर न्यायालय की शरण ले सभी जानते हैं कि इस देश में न्यायालय की कितनी बड़ी दुर्दशा है न्यायालय से अगर न्याय ही मिलता तो फिर क्या पूछने की बात महोदय न्यायालय से न्याय प्राप्त करना इस देश में इतना दुश्वार हो चुका है कि खुद एडीजे स्तर के अधिकारी अपने ही केस के लिए जाकर धरना प्रदर्शन करते हैं उसमें प्रशासन खूब रोती है अंत में अपनी मनमानी करती है जब एक एडिशनल डिस्ट्रिक्ट जज को न्यायालय पर भरोसा नहीं है तो सामान्य जनता कैसे न्यायालय पर भरोसा कर सकती है आप बताएं कि 500 लोगों को जमीन का कब्जा क्यों नहीं दिया गया अभी पिछले वर्ष एक अतिरिक्त जिलाधीश महोदय जेसीबी के सामने लेट कर विरोध प्रदर्शन किए हैं यदि उन्हें विश्वास ही होता कि न्यायालय में न्याय मिलता है वह अपना विरोध प्रदर्शन क्यों करते न्यायालय का सच उनका जेसीबी के समक्ष लेटना बता दे रहा 500 लोगों को आपने जमीन बिकवा दिया भूमाफिया से सांठगांठ करके आपको तो वहां की स्थिति अच्छे ढंग से मालूम थी आज आप कह रहे हैं कि जाइए भू माफिया के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं करेंगे योगी सरकार तो कहती है कि हम भू माफिया के विरुद्ध कार्यवाही के लिए विशेष रूप से तत्पर है किंतु व्यावहारिकता में कुछ भी दिखाई नहीं पड़ता है आज भी तहसीलों में पुलिस विभाग में लूट मची हुई है हर किसी का रेट फिक्स है हर तहसील में भूमाफिया हर जिले में भूमाफिया किंतु प्रशासन द्वारा भूमाफिया के विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है एक भू माफिया के मामले में आप न्यायालय की शरण में जाने की बात कर रहे हैं जिस भूमाफिया को पूरे प्रशासन का संरक्षण प्राप्त है जिसके पास पैसे की कोई कमी नहीं है हरपल 500 व्यक्ति यदि इसी तरह से न्यायालय जाएगा तो न्यायालय से न्याय मिल जाएगा पहले से भी बहुत से केस पेंडिंग में है 500 केसेस और पेंडिंग में हो जाएंगे क्या फर्क पड़ता है राज्य में योगी सरकार इसी तरह से भू-माफिया के विरुद्ध कार्यवाही करती है 500 लोगों को आप न्यायालय की शरण में भेज रहे हैं तो क्या इससे पहले भू माफिया के खिलाफ न्यायालय में भेजकर कार्यवाही होती

Grievance Document

Current Status

Grievance received   

Date of Action

07/06/2023

Officer Concerns To

Forwarded to

Uttar Pradesh

Officer Name

Shri Bhaskar Pandey (Joint Secretary)

Organisation name

Uttar Pradesh

Contact Address

Chief Minister Secretariat , Room No. 321, U.P. Secretariat, Lucknow

Email Address

bhaskar.12214@gov.in

Contact Number

05222226350 

Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2023/0107709

Grievance Concerns To

Name Of Complainant

Yogi M. P. Singh

Date of Receipt

24/05/2023

Received By Ministry/Department

Prime Ministers Office

Grievance Description

Real estate fraud, land mafia having the patronage of the staff of Tehsil Phoolpur, district Prayagraj, looting the innocent and gullible people in the broad daylight. Yogi Aditya Nath Government is mute spectator of it.

The matter concerns the working of the Sub Divisional Magistrate Tehsil-Phoolpur, District-Prayag Raj, Uttar Pradesh

 Land mafia took the price of land and concerned officers took their respective shares but purchasers of the land may take shelter of the court as suggested by the Tehsildar Phoolpur quite obvious from his report. This is not a dispute between two individuals but a cheating of Land Mafia with thousands of victims who were cheated by land mafia by colluding with the government functionaries.

Yogi Aditya Nath government claims to take action against land mafia but the factual position is that land mafias are active in his regime under patronage of his own subordinates which must be investigated by the team of honest public staff so that thousands of people who spent their life savings may get justice. 

Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2023/0090226 Grievance Concerns To Name Of Complainant Yogi M. P. Singh Date of Receipt 30/04/2023Received By Ministry/Department Prime Ministers Office Grievance Description The matter concerning large scale irregularity in real estate business in district Prayagraj at Phoolpur tehsil which deprived a lot of their life savings is a matter of concern.

भूमि का प्रकार आवासीय भूमि 2. ग्राम. बेला सैलाबी कछार, 3. परगना झुंसी 4. तहसील फूलपुर, 5. जिला प्रयागराज 6. विवरण सम्पत्ति ( आराजी सं०) आराजी सं० 1066रकबा 0.47000 व 1067 रकबा 0.7000हे0 कुल 2 गाटा योग रकबा 1.1700हे0 में अपने हिस्से में से 111.11 वर्गगज यानी 93.33 वर्गमीटर आवास हेतु बय किया ।केशव प्रताप सिंह

Landlord did not provide the possession of the land yet reflects insolence on his part. More details of land attached to grievance.

Please take a glance of the attached registry paper in 11 pages which costs Rs.22000.

An application under Article 51 A of the constitution of India on behalf of Keshav Pratap Singh son of late Rajendra Pratap Singh,mobile number-9794089100, Village and post-Nibi Gaharwar,Police station-Vindhyachal, District-Mirzapur, PIN Code-231303 and residential address-Surekapuram colony, Shri Laxmi Narayan Baikunth Mahadev Mandir,Rewa Road, Mirzapur city, pin code-231001.

Short submissions are as follows.

1-Concerned matter is cheating by the Land mafia to innocent and gullible people at the large scale in caucus with the administrative machinery.

2-Our great Chief minister most honourable yogi Aditya Nath ji has taken firm resolve to eradicate the entire mafia including land mafia from the land of Uttar Pradesh.


3-For the eradication of land mafia, our chief has ordered the administration to make separate website and website has been made reflects his resolve against land mafia.


4-Here this question arises that how can land mafia be active in the state of Uttar Pradesh in the regime of Yogi Aditya Nath sir ipso facto?

5-Whether in the state administration, bureaucracy is more effective than executives and executives are puppets in the hand of bureaucracy because of corruption?  Most of the middle class is being exploited by the land mafia protected by the white collar criminals but the Yogi government hesitates in taking action against them because of their influence in the politics and administrative machinery.

OSK Infrabuild Pvt. Ltd. Offering Commercial plots in our Projects at Prayagraj.

OSK Infrabuild Pvt. Ltd. future planning Row House Colony. The project will come very soon.

OSK Infrabuild Pvt. Ltd. future planning flat culture.

Sub divisional magistrate Phoolpur failed to take any action against the Land Mafia which is the root cause of the uprising of Land Mafia in the area. Please take action in accordance with the law so that rights of people may remain intact and rule of law may be established in the state.

Grievance Document

Current Status

Case closed   

Date of Action

07/06/2023

Remarks

अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित see report

Reply Document

Rating

1

Poor

Rating Remarks

आप बताएं कि 500 लोगों को जमीन का कब्जा क्यों नहीं दिया गया अभी पिछले वर्ष एक अतिरिक्त जिलाधीश महोदय जेसीबी के सामने लेट कर विरोध प्रदर्शन किए हैं यदि उन्हें विश्वास ही होता कि न्यायालय में न्याय मिलता है वह अपना विरोध प्रदर्शन क्यों करते न्यायालय का सच उनका जेसीबी के समक्ष लेटना बता दे रहा 500 लोगों को आपने जमीन बिकवा दिया भूमाफिया से सांठगांठ करके आपको तो वहां की स्थिति अच्छे ढंग से मालूम थी आज आप कह रहे हैं कि जाइए भू माफिया के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं करेंगे योगी सरकार तो कहती है कि हम भू माफिया के विरुद्ध कार्यवाही के लिए विशेष रूप से तत्पर है किंतु व्यावहारिकता में कुछ भी दिखाई नहीं पड़ता है आज भी तहसीलों में पुलिस विभाग में लूट मची हुई है हर किसी का रेट फिक्स है हर तहसील में भूमाफिया हर जिले में भूमाफिया किंतु प्रशासन द्वारा भूमाफिया के विरुद्ध कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है एक भू माफिया के मामले में आप न्यायालय की शरण में जाने की बात कर रहे हैं जिस भूमाफिया को पूरे प्रशासन का संरक्षण प्राप्त है जिसके पास पैसे की कोई कमी नहीं है हरपल 500 व्यक्ति यदि इसी तरह से न्यायालय जाएगा

Appeal Details

Appeal Number

Date of Receipt

Appeal Text

Current Status

Officer Concerns To

Officer Name

Shri Bhaskar Pandey (Joint Secretary)

Organisation name

Government of Uttar Pradesh

Contact Address

Chief Minister Secretariat , Room No. 321, U.P. Secretariat, Lucknow

Email Address

bhaskar.12214@gov.in

Contact Number

05222226350

To see the attached document to the grievance, click on the link

Yogi

An anti-corruption crusader. Motive to build a strong society based on the principle of universal brotherhood. Human rights defender and RTI activist. Working for the betterment of societies and as an anti-corruption crusader for more than 25 years. Our sole motive is to raise the voices of weaker and downtrodden sections of the society and safeguard their human rights. Our motive is to promote the religion of universal brotherhood among the various castes communities of different religions. Man is great by his deeds and character.

Post a Comment

Your view points inspire us

Previous Post Next Post