Death toll of mother cow is greatest in development block-Jamalpur in total blocks of district-Mirzapur is a matter of concern

 संदर्भ संख्या : 40019923009870 , दिनांक - 13 May 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019923009870

आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh

विषय-महोदय प्रकरण का संबंध खंड विकास अधिकारी जमालपुर से है जहां पर गोवंश आश्रय स्थल पर सामान्य से बहुत ज्यादा पशुओं की मौत हो रही है और प्रार्थी भारतीय संविधान के अनुसूची 51 अ के तहत उसके संबंध में कुछ पूछताछ करना चाहता है मिर्जापुर में जितने भी गौशाला हैं उनका विवरण इस व्यथा के साथ संलग्न है अस्थायी स्थायी गोवंश आश्रय स्थलों की सूचना गोवंश कम होने का कारण या मृत्यु दिनांक 06.05.2023 विकासखंड जमालपुर, स्थल या ग्राम का नाम जमालपुर मिल्की, विकास खण्ड मुख्यालय से दूरी 15 कि०मी० , अब तक संरक्षित किए गए गोवंश 200, आश्रय स्थल पर वास्तविक संख्या 82 , अब तक मृत्यु गोवंश की संख्या 61, सुपुर्दगी में दिए गए गोवंश की संख्या कुछ इस प्रकार है सामान्य सुपुर्दगी 57 , अर्थात इस आश्रय स्थल पर कुल सुपुर्दगी 57 है, खंड विकास अधिकारी महोदय आपके यहां मृत्यु गोवंश की संख्या औसतन सबसे ज्यादा है और आपको इसका कारण है बेहतर मालूम होगा महोदय गोवंश का संरक्षण करना हमारे प्रदेश सरकार का मुख्य लक्ष्य है और हमारा शिखर न्यायालय यह कहता है कि हर लोक प्राधिकारी के पास उसके किए गए कृतियों का तार्किक व्याख्या होनी चाहिए क्या आप यह व्याख्या कर सकते हैं कि आपके निगरानी में जो गोवंश आश्रय स्थल है उसमें सबसे ज्यादा मौतें क्यों हुई है आपके यहां किस प्रकार की सुविधा का अभाव है आपके यहां यह गड़बड़ी क्यों हो रही है महोदय मेरा यह निष्कर्ष मुख्य चिकित्सा अधिकारी जनपद मिर्जापुर के उपलब्ध कराए गए रिपोर्ट पर आधारित है जिसका मैं विश्लेषण करके इस निष्कर्ष पर पहुंचा हूं की आपके यहां लापरवाही और अनियमितता सबसे ज्यादा हैं गोवंश का मृत्यु दर सबसे ज्यादा है और यह पूर्ण रूप से लापरवाही और अकर्मण्यता का द्योतक है श्रीमान खंड विकास अधिकारी जमालपुर क्या प्रार्थी को यह बताएंगे कि उनके द्वारा गोवंश आश्रय स्थल का निरीक्षण किन किन तिथियों को किया गया और यदि नहीं किया गया तो उसका कारण क्या था श्रीमान खंड विकास अधिकारी जमालपुर क्या प्रार्थी को यह बताएंगे कि एक जिम्मेदार अधिकारी होने के नाते प्रत्येक दिन उनके द्वारा हर कार्यक्रम का एजेंडा तय किया जाता है और उस एजेंडा का समयबद्ध तरीके से संपादन किया जाता है और इस संपादन का क्या कोई कार्यालय रिकॉर्ड तैयार किया जाता है यदि नहीं तैयार किया जाता है तो क्यों महोदय खंड विकास जमालपुर कितनी गाड़ियां सरकार की ओर से सरकारी कार्य संपादन हेतु उपलब्ध कराई गई है और उन गाड़ियों का प्रत्येक माह में होने वाला खर्च कितना है पिछले 6 महीनों का विवरण उपलब्ध कराइए श्रीमान जी क्या आपके यहां हो रहे गोवंश आश्रय स्थल में गोवंश की मृत्यु का जो सबसे बड़ा ग्राफ है उसका स्पष्टीकरण क्या किसी जिम्मेदार अधिकारी द्वारा आपसे अभी तक नहीं मांगा गया है क्या इस संबंध में किसी वरिष्ठ अधिकारी द्वारा आपको कोई स्पष्ट दिशानिर्देश नहीं जारी किया गया चाहे वह मौखिक हो या लिखित हो श्रीमान जी क्या आपके द्वारा कराए गए कार्यों की जिसमें स्पष्ट लापरवाही झलगती है किसी वरिष्ठ अधिकारी द्वारा कोई जांच नहीं की जा रही है जोकि आपकी कार्यशैली से स्पष्ट है महोदय क्या व्यक्तिगत रूप से आपको इन गायों के मरने पर कोई दया नहीं आती है क्या संवेदनहीनता अपनी शिखर पर पहुंच चुका है व्यक्ति मानव होने के नाते मानवता उसका प्रधान धर्म होता है और हमारी मानवता गाय तो हमारी माता है हम अन्य पशुओं को भी निर्दयता पूर्ण मरते नहीं देख सकते हैं महोदय ऐसा प्रतीत होता है कि जैसे उस गौशाला में पशु सिर्फ मरने के लिए आते हैं वहां पर उनके ना तो इलाज की व्यवस्था है ना चारे इत्यादि की व्यवस्था है जबकि हमारी सरकार पर्याप्त फंड गोवंश आश्रय स्थल के लिए और गोवंश के पोषण के लिए दे रही है किंतु उनका समुचित सदुपयोग नहीं हो रहा है महोदय कृपया संलग्न रिपोर्ट जो कि मुख्य चिकित्सा अधिकारी जनपद मिर्जापुर द्वारा उपलब्ध कराया गया है उसका परिशीलन करें

विभाग -ग्राम्‍य विकास विभागशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-27-05-2023शिकायत की स्थिति-

स्तर -विकास खण्ड स्तरपद -खण्‍ड वि‍कास अधि‍कारी

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 12-05-2023 27-05-2023 खण्‍ड वि‍कास अधि‍कारी-जमालपुर,जनपद-मिर्ज़ापुर,ग्राम्‍य विकास विभाग अनमार्क

Beerbhadra Singh

To write blogs and applications for the deprived sections who can not raise their voices to stop their human rights violations by corrupt bureaucrats and executives.

3 Comments

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

  1. The affection of the ruling party with the mother cow is only for garnering support of the people during the election time in the name of protection of mother cow. The factual position is that these cow Shelters are victim of mismanagement because of the rampant corruption in the government machinery.

    ReplyDelete
  2. There is complete mismanagement in the maintenance of cow Shelters in the district Mirzapur which is reflected in the post made by the public is better person. Is most unfortunate repeated requests are being made but the concerned accountable public functionaries are closing the grievances by submitting arbitrary and inconsistent reports.

    ReplyDelete
  3. We cannot provide the life of hell to the mother cow has been done in the Government of Uttar Pradesh. Undoubtedly government is providing huge fund for the management of the cow Shelters but the funds are not being utilised properly because of the corruption in the working of the public authorities.

    ReplyDelete
Previous Post Next Post