संदर्भ संख्या : 40019922026675 , दिनांक - 25 Nov 2022 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019922026675

आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्रीमान जी आज कार्यदाई संस्था इंफराकान का ठेकेदार आया था उन महोदय के पास प्रार्थी द्वारा प्रस्तुत किया गया प्रत्यावेदन था जो मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा गंगा प्रदूषण यूनिट मिर्जापुर को संदर्भित था प्रार्थी को बहुत आश्चर्य हुआ यह देखकर की आजकल सरकार के कार्य अवर अभियंता सहायक अभियंता और अधिशासी अभियंता न करके ठेका लेने वाली कंपनियों के कर्मचारी किया करते हैं क्या करेंगे जब पारदर्शिता और जवाबदेही का पूर्ण रूप से अभाव हो जाएगा सरकार में तो, उन सज्जन महोदय के द्वारा सड़क पर पानी डाला गया निवासियों से पाइप के द्वारा कनेक्शन जोड़कर और फिर वह मेरे पास आए और कहे कि अब पानी डाल दिया गया है आप लिख दीजिए कि हम संतुष्ट हैं जिससे हम लोगों के मजदूरी का भुगतान विभाग कर दे श्रीमान जी प्रार्थी द्वारा कभी भी इस बात के लिए प्रत्यावेदन नहीं प्रस्तुत किया गया है की सड़क पर पानी डालने से सड़क का निर्माण हो जाएगा या उसमें पानी डालने की कमी है क्योंकि सभी जानते हैं सड़क का निर्माण पानी से नहीं होता उसके साथ और भी मटेरियल लगते हैं अब आप बोल्डर लगा दिए जो पिछला था बालू गंगाजी का  लगा दिए और आज पानी भी डाल दिए किंतु इससे तो सड़क नहीं बन जाएगी यदि आप कहते हैं कि हम पुरानी सड़क को रिपेयर करेंगे तो पुरानी सड़क तो कोलतार से बनी थी बोल्डरो के बीच कोलतार  डाला गया था क्या आप कोलतार डालेंगे वह भी नहीं कर सकते क्योंकि कोलतार इस समय बहुत महंगा है किंतु सड़क कार्य तो सही कराइए सड़क को अच्छे ढंग से सपोर्ट दीजिए बालू  में सीमेंट का घोल डाल दीजिए जिससे बालू न  उड़े लेकिन आप तो कुछ भी नहीं करना चाहते सारा का सारा पैसा हड़पकर जाना चाहते हैं कंपनी और संबंधित अधिकारी गण मिलकर सुरेकापुरम के निवासी आपसे कैसे संतुष्ट हो सकते हैं पुरानी जैसे ही सड़क बना दीजिए प्रार्थी कभी भी आप का विरोध नहीं करेगा किंतु पुरानी सड़क को नष्ट कर डाले इस बात का विरोध हमेशा होता रहेगा यदि आप चलने फिरने लायक नहीं देते हैं तो The matter concerns the department of Namami Gange, Government of Uttar Pradesh District-Mirzapur for enquiry into developmental activities carried out concerning sewage work in Surekapuram colony. श्रीमान जी जहां एक और मोदी सरकार का सतर्कता विभाग न हीं सिर्फ अधिकारियों से वल्कि सामान्य जनता से भी शपथ पत्र ले रही है ईमानदारी का वहीं पर योगी सरकार सिर से लेकर पैर तक भ्रष्टाचार के चपेट में है इसका जीता जागता उदाहरण मिर्जापुर का नमामि गंगे विभाग जिसमें प्रार्थी द्वारा दर्जनों से अधिक पत्र लिखे गए भ्रष्टाचार की जांच कराने के लिए किंतु विभाग का माहौल ऐसा है जैसे लगता है कि उस विभाग में भ्रष्टाचार ही होता है इसके अलावा और कुछ होता ही नहीं सारे विकास कार्य का पैसा अधिकारी कर्मचारी ठेकेदार सब मिलकर खा गए जो सुरेकापुरम में मुलायम सिंह के समय में सड़क बनी थी उसको तोड़ दिए 2 वर्ष पहले और इस आश्वासन के साथ नमामि गंगे सीवर बनवाएगा उसके साथ समस्त रोड की अच्छे ढंग से मरम्मत कराएगा और यहां से बोल्डर सब हट जाएंगे किंतु पहले से भी खराब रोड इन्होंने दिया और जो पुराना रोड था उसे तोड़कर उसकी रिपेयरिंग तक इन्होंने नहीं कराया और बालू से ढोके को जोड़ा गया है वह बालू उड़-उड़ के लोगों के नाक में जाता है सुरेकापुरम में बीमारी फैल रही है नालियों को तोड़ दिए हैं पानी जगह-जगह ऊपर बह रहा है किंतु कोई देखने वाला नहीं है जब भ्रष्टाचार का बोलबाला होगा तो सभी अपनी आंख और कान बंद कर लेते हैं

विभाग -शिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-25-12-2022शिकायत की स्थिति-

स्तर -जनपद स्तरपद -जिलाधिकारी

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 25-11-2022 25-12-2022 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, अनमार्क