There is alarming hike in cases of dengue but government is not serious about problems of people quite obvious from mismanagement



Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2021/63293

Grievance Concerns To
Name Of Complainant
Yogi M. P. Singh
Date of Receipt
01/11/2021
Received By Ministry/Department
Uttar Pradesh
Grievance Description
प्रार्थी द्वारा सतत प्रयास किया जा रहा है की किसी तरह मच्छरों के बढ़ते तादाद पर किसी तरह अंकुश लगे सोचिये पिछले तीन महीने से छिडकाव बंद कर रखा है सिर्फ दिखावा हो रहा है प्रयास सिर्फ आकड़े छिपाने का है और कुछ नहीं सोचिये मच्छरों की संख्या रोकने का क्या उपाय किये है इस शिकायत को मै  इसलिए लिख रहा हु की मच्छरों के कारण दो बजे ही नीद  खुल गई है मच्छरों की बढ़ती तादाद रोकने जो प्रयास किये है उसे उपलब्ध कराये झूठे आकड़े नहीं Registration Number DPTMH/R/2019/60024 Name Yogi M P Singh Date of Filing 05/12/2019Description of Information Sought PIO may be directed to provide following information point-wise as sought. 1-Number of staffs working in the department of Malaria in Mirzapur district with name and designation outsourced staffs as well. 
2-Date of posting in the Mirzapur district of aforementioned. 
3-Provide detail of information available under subsection 1 b of section 4 of R.T.I. Act 2005 including the website address and fund detail in purchasing medicines of the last five years.Registration Number DPTMH/A/2020/60015Name Yogi M P Singh Date of Filing 06/04/2020 Status APPEAL DISPOSED OF as on 04/10/2021 Reply :- direction given to concerning PIO for disposal of your RTI application. Appeal accordingly dispose of.पूर्वांचल में डेंगू का प्रकोप: वाराणसी समेत आसपास के जिलों में बढ़ रहे डेंगू-मलेरिया के मरीज, जानें हालन्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: गीतार्जुन गौतम Updated Fri, 24 Sep 2021 12:17 AM ISTमौसम में बदलाव के चलते वाराणसी, विंध्याचल एवं आजमगढ़ मंडल में लोग डेंगू, मलेरिया व वायरल की चपेट में आ रहे हैं। सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में हर दिन सर्दी, खांसी, जुकाम आदि के मरीज पहुंच रहे हैं। वाराणसी में अब तक सबसे अधिक डेंगू के 132 मरीज मिल चुके हैं। वहीं मऊ में कोई केस नहीं मिला है।
अस्पतालों में डेंगू वार्ड बनाए जाने के साथ ही अभियान चलाकर डेंगू का लार्वा नष्ट कराया जा रहा है। डेंगू से अब तक  कोई मौत नहीं हुई है। वहीं मलेरिया के 106, वायरल के प्रतिदिन 100 से अधिक मरीज सरकारी अस्पतालों के ओपीडी में पहुंच रहे हैं।सोनभद्र में अब तक डेंगू के 32 मामले सामने आए हैं। दो का उपचार चल रहा है। जिला अस्पताल में दस बेड का वार्ड बनाया गया है। सीएचसी पर तीन-तीन बेड आरक्षित हैं। कुल 69 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। वायरल बुखार के रोजाना 10-12 केस आ रहे हैं।
Grievance Document
Current Status
Grievance received   
Date of Action
01/11/2021
Officer Concerns To
Forwarded to
Uttar Pradesh
Officer Name
Shri Bhaskar Pandey
Officer Designation
Joint Secretary
Contact Address
Chief Minister Secretariat Room No.321 U.P. Secretariat, Lucknow
Email Address
bhaskar.12214@gov.in
Contact Number
2226350

संदर्भ संख्या : 40019921024501 , दिनांक - 01 Nov 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921024501

आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-प्रार्थी द्वारा सतत प्रयास किया जा रहा है की किसी तरह मच्छरों के बढ़ते तादाद पर किसी तरह अंकुश लगे | सोचिये पिछले तीन महीने से छिडकाव बंद कर रखा है सिर्फ दिखावा हो रहा है प्रयास सिर्फ आकड़े छिपाने का है और कुछ नहीं सोचिये मच्छरों की संख्या रोकने का क्या उपाय किये है इस शिकायत को मै इसलिए लिख रहा हु की मच्छरों के कारण दो बजे ही नीद खुल गई है मच्छरों की बढ़ती तादाद रोकने जो प्रयास किये है उसे उपलब्ध कराये झूठे आकड़े नहीं Registration Number DPTMH/R/2019/60024 Name Yogi M P Singh Date of Filing 05/12/2019 Description of Information Sought PIO may be directed to provide following information point-wise as sought. 1-Number of staffs working in the department of Malaria in Mirzapur district with name and designation outsourced staffs as well. 2-Date of posting in the Mirzapur district of aforementioned. 3-Provide detail of information available under subsection 1 b of section 4 of R.T.I. Act 2005 including the website address and fund detail in purchasing medicines of the last five years. Registration Number DPTMH/A/2020/60015 Name Yogi M P Singh Date of Filing 06/04/2020 Status APPEAL DISPOSED OF as on 04/10/2021 Reply :- direction given to concerning PIO for disposal of your RTI application. Appeal accordingly dispose of. पूर्वांचल में डेंगू का प्रकोप: वाराणसी समेत आसपास के जिलों में बढ़ रहे डेंगू-मलेरिया के मरीज, जानें हाल न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: गीतार्जुन गौतम Updated Fri, 24 Sep 2021 12:17 AM IST मौसम में बदलाव के चलते वाराणसी, विंध्याचल एवं आजमगढ़ मंडल में लोग डेंगू, मलेरिया व वायरल की चपेट में आ रहे हैं। सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में हर दिन सर्दी, खांसी, जुकाम आदि के मरीज पहुंच रहे हैं। वाराणसी में अब तक सबसे अधिक डेंगू के 132 मरीज मिल चुके हैं। वहीं मऊ में कोई केस नहीं मिला है। अस्पतालों में डेंगू वार्ड बनाए जाने के साथ ही अभियान चलाकर डेंगू का लार्वा नष्ट कराया जा रहा है। डेंगू से अब तक कोई मौत नहीं हुई है। वहीं मलेरिया के 106, वायरल के प्रतिदिन 100 से अधिक मरीज सरकारी अस्पतालों के ओपीडी में पहुंच रहे हैं। सोनभद्र में अब तक डेंगू के 32 मामले सामने आए हैं। दो का उपचार चल रहा है। जिला अस्पताल में दस बेड का वार्ड बनाया गया है। सीएचसी पर तीन-तीन बेड आरक्षित हैं। कुल 69 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। वायरल बुखार के रोजाना 10-12 केस आ रहे हैं।

विभाग -चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याणशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-16-11-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -विकास खण्ड स्तरपद -प्रभारी चिकित्साधिकारी/अधीक्षक(पी० एच० सी०/सी० एच० सी० )

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी प्राप्त/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 01-11-2021 16-11-2021 प्रभारी चिकित्साधिकारी/अधीक्षक(पी० एच० सी०/सी० एच० सी० )-नगर (सिटी),जनपद-मिर्ज़ापुर,चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अनमार्क

1 Comments

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

  1. प्रार्थी द्वारा सतत प्रयास किया जा रहा है की किसी तरह मच्छरों के बढ़ते तादाद पर किसी तरह अंकुश लगे | सोचिये पिछले तीन महीने से छिडकाव बंद कर रखा है सिर्फ दिखावा हो रहा है प्रयास सिर्फ आकड़े छिपाने का है और कुछ नहीं सोचिये मच्छरों की संख्या रोकने का क्या उपाय किये है इस शिकायत को मै इसलिए लिख रहा हु की मच्छरों के कारण दो बजे ही नीद खुल गई है मच्छरों की बढ़ती तादाद रोकने जो प्रयास किये है उसे उपलब्ध कराये झूठे आकड़े नहीं

    ReplyDelete
Previous Post Next Post