How cleanly drive mission of Modi Sir will succeed if there is complete mismanagement in the working of municipality Mirzapur city?


संदर्भ संख्या : 40019921024502 , दिनांक - 01 Nov 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921024502

आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्री मान जी हम लोगो के पास दो विकल्प है या तो रोज झाड़ू लगे या आवारा पशुओं की ब्यवस्था की जाए किन्तु दोनों नहीं हो रहा है श्री मान जी झाड़ू न लगने के कारण मल मूत्र सड़को पर विखर कर चलना दूभर कर देते है महोदय आप गायो को इसलिए नही ब्यवस्थित कर रहे है क्यों की आप के पास पशु चिक्तिसक नहीं है आज कल पशु चिकित्सक तो पशु अस्पतालों में नहीं है तो आप के पी. डब्लू. डी। और जोनल विभाग को क्यों देगा और रही बात सूअर और कुत्तो का तो उनके लिए आपके पास संसाधन नहीं है इसलिए आप झब्बू लाल जी से अनुनय विनय करिये की वे एक हप्ते के बजाय रोज झाड़ू लगवाए और जिस दिन नहीं लगवायेगे हम आप को सूचित कर देंगे वैसे भी इस समय सुरेकापुरम में मच्छरों की संख्या बहुत बढ़ी हुई है इसलिए फोगिंग करवाए नहीं तो डेंगू बुखार बहुत बड़े स्तर पर हो जाएगा संदर्भ संख्या : 60000210145166 , दिनांक - 16 Sep 2021 तक की स्थिति आवेदनकर्ता का विवरण :शिकायत संख्या:-60000210145166 आवेदक का नाम-Yogi M P Singh विषय-शिकायत संख्या:-40019921016084 आवेदक का नाम-Yogi M P Singh शिकायत संख्या:-40019921015511आवेदक का नाम-Yogi M P Singh शिकायत संख्या- 40019921013251 आवेदक का नाम-Yogi M P Singh श्री मान जी उपरोक्त चारों का निस्तारण नगर पालिका मिर्ज़ापुर सिटी द्वारा मनमाने तरीके से कर दिया गया अर्थात जिलाधिकारी और अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका मिर्ज़ापुर सिटी मनमाने तरीके से जनता की शिकायतों का निस्तारण कर रहे है अभी भी बड़ी संख्या में सूअर पार्क के ड्रेनेज वाटर और खुद जगह जगह ड्रेनेज वाटर में लोट रहे है और सड़को पर गन्दगी कर रहे है आवारा कुत्ते सड़को पर टहलते रहते है और घरो के सामने मलमूत्र डिस्चार्ज करते रहते है गायो का तो सुरेकापुरम कॉलोनी चलता फिरता गौशाला ही है सड़को पर गोबर ही गोबर दिखाई पड़ता है मोदी जी का स्वच्छता अभियान खूब चरितार्थ हो रहा है सिर्फ लोक फण्ड का दोहन हो रहा है कागज पर श्री मान जी उत्तर प्रदेश सरकार का यह विशाल वजट कहा जा रहा है २०० करोड़ का बजट तो वित्तीय वर्ष Budget year 2019-20 आवारा पशुओं के देखभाल के लिए किन्तु आवारा पशुओं की भीड़ तो बढ़ती ही जा रही है जब भ्र्ष्टाचार को पोषित करने वाला तंत्र होगा तो कोई सुधार संभव भी नहीं है सुधार के लिए पारदर्शिता और जवाबदेही जरूरी है जिसका यहा पर अकाल है पूर्वांचल में डेंगू का प्रकोप: वाराणसी समेत आसपास के जिलों में बढ़ रहे डेंगू-मलेरिया के मरीज, जानें हाल न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Published by: गीतार्जुन गौतम Updated Fri, 24 Sep 2021 12:17 AM IST मौसम में बदलाव के चलते वाराणसी, विंध्याचल एवं आजमगढ़ मंडल में लोग डेंगू, मलेरिया व वायरल की चपेट में आ रहे हैं। सरकारी अस्पतालों की ओपीडी में हर दिन सर्दी, खांसी, जुकाम आदि के मरीज पहुंच रहे हैं। वाराणसी में अब तक सबसे अधिक डेंगू के 132 मरीज मिल चुके हैं। वहीं मऊ में कोई केस नहीं मिला है। अस्पतालों में डेंगू वार्ड बनाए जाने के साथ ही अभियान चलाकर डेंगू का लार्वा नष्ट कराया जा रहा है। डेंगू से अब तक कोई मौत नहीं हुई है। वहीं मलेरिया के 106, वायरल के प्रतिदिन 100 से अधिक मरीज सरकारी अस्पतालों के ओपीडी में पहुंच रहे हैं। सोनभद्र में अब तक डेंगू के 32 मामले सामने आए हैं। दो का उपचार चल रहा है। जिला अस्पताल में दस बेड का वार्ड बनाया गया है। सीएचसी पर तीन-तीन बेड आरक्षित हैं। कुल 69 सैंपल जांच के लिए भेजे गए हैं। वायरल बुखार के रोजाना 10-12 केस आ रहे हैं।

विभाग -नगर पालिका परिषदशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-08-11-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -नगर पालिका / नगर पंचायतपद -अधिशासी अधि‍कारी,नगर पंचायत /पालिका

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी प्राप्त/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 01-11-2021 08-11-2021 अधिशासी अधि‍कारी,नगर पंचायत /पालिका -मिर्ज़ापुर अनमार्क

1 Comments

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

  1. श्री मान जी हम लोगो के पास दो विकल्प है या तो रोज झाड़ू लगे या आवारा पशुओं की ब्यवस्था की जाए किन्तु दोनों नहीं हो रहा है श्री मान जी झाड़ू न लगने के कारण मल मूत्र सड़को पर विखर कर चलना दूभर कर देते है महोदय आप गायो को इसलिए नही ब्यवस्थित कर रहे है क्यों की आप के पास पशु चिक्तिसक नहीं है आज कल पशु चिकित्सक तो पशु अस्पतालों में नहीं है तो आप के पी. डब्लू. डी। और जोनल विभाग को क्यों देगा और रही बात सूअर और कुत्तो का तो उनके लिए आपके पास संसाधन नहीं है इसलिए आप झब्बू लाल जी से अनुनय विनय करिये की वे एक हप्ते के बजाय रोज झाड़ू लगवाए और जिस दिन नहीं लगवायेगे हम आप को सूचित कर देंगे वैसे भी इस समय सुरेकापुरम में मच्छरों की संख्या बहुत बढ़ी हुई है इसलिए फोगिंग करवाए नहीं तो डेंगू बुखार बहुत बड़े स्तर पर हो जाएगा

    ReplyDelete
Previous Post Next Post