Thursday, August 5, 2021

70 years old lady Shiv Kumari seeking justice against cheating of his own own son and police concerned misusing Cr.P.C. 107/116

 



संदर्भ संख्या : 40019921014532 , दिनांक - 05 Aug 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921014532

आवेदक का नाम-Shiv Kumariविषय-Everyone knows that proceedings under Section 107/116. Cr. P.C. are only preventive measures and not pure criminal proceedings, but such proceedings are of quasi judicial nature, while the offence of my son is inviting pure criminal proceedings, so my matter is not amenable under section 107/116. Herewith written application addressed to superintendent of police Mirzapur is attached to this representation signed by the aggrieved. Indirectly, police is misleading the aggrieved instead of being instrumental to victim 70 years old in seeking justice.  

सेवा में                                                                    

                                                                                  पुलिस अधीक्षक                                                                                                                       जिला - मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश , पिन कोड -२३१००१ 

विषय -सम्बंधित पुलिस द्वारा विषय वस्तु के अनुसार शिकायत का निस्तारण न करने के सम्बन्ध में

 महोदय                        

                                    श्री मान जी प्रार्थिनी किस आधार पर एक लड़के को जमीन रजिस्ट्री कर सकती है जब की प्रार्थिनी के चार लड़के है जिसमे उन सब का हिस्सा है प्रार्थिनी से जमीन की रजिस्ट्री विनोद द्वारा धोखे से कराई गई है                      

 सम्बंधित पुलिस विनोद व उनकी पत्नी के  विरुद्ध धोखा धड़ी का मुक़दमा पंजीकृत किया जाय और मुझ ७० वर्ष की वृद्धा को न्याय दिलाये सोचे आज भी प्रार्थिनी कूड़ा बीन कर पेट की छुधा शांत कर रही है श्री मान जी १०७ /११६ से किस तरह से प्रार्थिनी  न्याय  मिल सकती है जिसका प्रयोग पुलिस द्वारा एहतियात के तौर पर शांति व्यवस्था बनाने के लिए किया जाता है इस लिए अनुरोध है की शिकायत संदर्भ संख्या : 40019921013978 ,आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40019921013978 आवेदक का नाम-Shiv Kumari का निस्तारण गुण दोष के आधार पर किया जाय जिससे प्रार्थिनी को न्याय मिले यह कहा का न्याय है की एक लड़का सारी प्रॉपर्टी धोखे से लेकर बैठ जाय प्रार्थिनी भ्रमित  और गुमराह नहीं बल्कि उसे पुलिस गुमराह कर रही है                                   श्री मान जी मुझ वृद्धा को न्याय दिलाये और मेरे धोखेबाज पुत्र व बहू को दण्डित कराये सक्षम न्यायालय द्वारा जिसके लिए ईश्वर आप को प्रेरित करे 

दिनांक -०५/०८ /२०२१                                                                                      प्रार्थिनी                                                                                                                                               शिव कुमारी पति  शिव शंकर  

Address- Mohalla- Bhaisahiya tola, Police station- Kotwali Katra, District-Mirzapur PIN code-231001

विभाग -पुलिसशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-04-09-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -क्षेत्राधिकारी स्तरपद -क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी प्राप्त/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 05-08-2021 04-09-2021 क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त-क्षेत्राधिकारी , नगर ,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस अनमार्क

संदर्भ संख्या : 40019921014529 , दिनांक - 05 Aug 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921014529

आवेदक का नाम-Shiv Kumariविषय-Herewith written application addressed to superintendent of police Mirzapur is attached signed by the aggrieved. सेवा में पुलिस अधीक्षक जिला - मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश , पिन कोड -२३१००१ विषय -सम्बंधित पुलिस द्वारा विषय वस्तु के अनुसार शिकायत का निस्तारण न करने के सम्बन्ध में महोदय श्री मान जी प्रार्थिनी किस आधार पर एक लड़के को जमीन रजिस्ट्री कर सकती है जब की प्रार्थिनी के चार लड़के है जिसमे उन सब का हिस्सा है प्रार्थिनी से जमीन की रजिस्ट्री विनोद द्वारा धोखे से कराई गई है सम्बंधित पुलिस विनोद व उनकी पत्नी के विरुद्ध धोखा धड़ी का मुक़दमा पंजीकृत किया जाय और मुझ ७० वर्ष की वृद्धा को न्याय दिलाये सोचे आज भी प्रार्थिनी कूड़ा बीन कर पेट की छुधा शांत कर रही है श्री मान जी १०७ /११६ से किस तरह से प्रार्थिनी न्याय मिल सकती है जिसका प्रयोग पुलिस द्वारा एहतियात के तौर पर शांति व्यवस्था बनाने के लिए किया जाता है इस लिए अनुरोध है की शिकायत संदर्भ संख्या : 40019921013978 ,आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40019921013978 आवेदक का नाम-Shiv Kumari का निस्तारण गुण दोष के आधार पर किया जाय जिससे प्रार्थिनी को न्याय मिले यह कहा का न्याय है की एक लड़का सारी प्रॉपर्टी धोखे से लेकर बैठ जाय प्रार्थिनी भ्रमित और गुमराह नहीं बल्कि उसे पुलिस गुमराह कर रही है श्री मान जी मुझ वृद्धा को न्याय दिलाये और मेरे धोखेबाज पुत्र व बहू को दण्डित कराये सक्षम न्यायालय द्वारा जिसके लिए ईश्वर आप को प्रेरित करे दिनांक -०५/०८ /२०२१ प्रार्थिनी शिव कुमारी पति शिव शंकर Address- Mohalla- Bhaisahiya tola, Police station- Kotwali Katra, District-Mirzapur PIN code-231001

विभाग -पुलिसशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-12-08-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -थाना स्तरपद -थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी प्राप्त/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 05-08-2021 12-08-2021 थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-कोतवाली कटरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस अनमार्क