UP.P.C.L. Mirzapur is not maintaining transparency and accountability to curb theft of electricity because of corruption in the department

 


संदर्भ संख्या : 40019923012997 , दिनांक - 19 Jun 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019923012997

आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh

विषय-महोदय रात को बिजली क्यों काट देते हैं आप, महोदय बिजली चोरी की जांच सतर्कता टीम द्वारा बहुत बड़े स्केल पर किया गया काफी जगहों पर ज्यादा लोड पकड़ा गया कई जगहों पर कटिया पकड़ा गया किंतु कार्यवाही के नाम पर शून्य रहा महोदय आधी रात में चार बार आप बिजली काट देंगे तो फिर नींद तो गई और ठीक से व्यक्ति नहीं सोएगा तो बीमार हो जाएगा महोदय बिजली की चोरी होती नहीं है बल्कि बिजली की चोरी कराई जाती है जिससे मैं बैक डोर इनकम बढ़ सके महोदय सभी जानते हैं कि बिजली विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों को स्पष्ट दिशानिर्देश है कि यदि किसी को बिजली कनेक्शन दिया जाए तो बिजली मीटर उस परिसर के बाहर हो जिससे कि विभागीय कर्मचारी मीटर रीडिंग आसानी से ले सके और मीटर रीडिंग के कार्य में पारदर्शिता और जवाबदेही सुनिश्चित हो सके किंतु ऐसा नहीं हो रहा है बिजली मीटर को परिसर से बाहर करने की बात तो दूर रही नए कनेक्शंस में भी बिजली मीटर घर के अंदर लगाए गए हैं सिर्फ इसलिए जिससे कि मीटर रीडिंग के में कूट रचना हो सके महोदय बिजली चोरी बिजली विभाग में लाइन लास के रूप में देखी जाती है लाइन लास्ट थोड़ा सा स्टैंडर्ड शब्द है क्योंकि बिजली चोरी करने पर अधिकारियों कर्मचारियों का स्टैंडर्ड डाउन होता है किंतु सच तो यह है कि जो है जो लाइन लाश 45 से 50 वर्ष के बीच में होती है एवरेज उसका कारण सिर्फ विद्युत चोरी है इसलिए संभव होता है क्योंकि बिजली चोरी खुद ही विभागीय कर्मचारियों की मिलीभगत से कराई जाती है सोचिए जब बहुत बड़े स्केल पर सतर्कता टीम द्वारा जांच की गई और काफी विद्युत चोरी पकड़ी गई तो उसने कारवाही क्यों नहीं किया बाहर क्यों नहीं लगाए जा रहे हैं केवल उन्हीं प्रश्नों के बाहर हैं जो परिसर जो कनेक्शन धारक इमानदारी से विद्युत बिल का भुगतान करना चाहते हैं जो विद्युत बिल का भुगतान ईमानदारी से नहीं करना चाहते हैं उनका विद्युत मीटर आराम से और जितना मूड हो उतना विद्युत का उपयोग करें विद्युत मीटर को दिया जाता है और आराम से विद्युत की जाती है शासन द्वारा अवर अभियंता को बड़े विद्युत बकायेदारों का 10 कनेक्शन प्रतिदिन काटने का निर्देश दिया गया है किंतु आप द्वारा जो आख्या उपलब्ध कराई गई है उसके अनुसार एक अवर अभियंता प्रतिदिन के हिसाब से केवल एक विद्युत कनेक्शन काटा है क्या आपका निष्ठा शासन द्वारा पारित दिशा निर्देशों के कंप्लायंस के प्रति है अर्थात नहीं है जहां आपको 10 कनेक्शन काटना है उसके स्थान पर सिर्फ एक कनेक्शन काट रहे हैं अर्थात शासन द्वारा निर्धारित क्षमता क्या आप सिर्फ 10 परसेंट कार्य कर रहे हैं आपको जो निर्धारित कर्तव्य है यदि सिर्फ आप 10 परसेंट उसका पालन करेंगे तो फिर तंत्र कैसे आगे बढ़ेगा क्योंकि सच को स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं सरकार अच्छी खासी आप लोगों को सैलरी दे रही है विद्युत चोरी नहीं रुक रहा है और विद्युत चोरी के कारण अरबों खरबों का राजस्व नुकसान हो रहा है एप्लीकेशन को आप गंदगी के टोकरी में डाल देते हैं इसी तरह से विद्युत चोरी आप रोकेंगे यदि विद्युत चोरी बैक डोर इनकम का स्रोत होगा वह कभी नहीं रुकेगा विद्युत चोरी रोकने के लिए इच्छाशक्ति की जरूरत है ईमानदारी की जरूरत है किंतु ईमानदारी तो दीपक लेकर खोजने से भी नहीं मिलती आजकल सिर्फ प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया पर हमारे नेता ईमानदार हैं चिल्लाते रहते हैं सरकार द्वारा विद्युत चोरी रोकने के लिए खुले तारों को हटाकर केबल लगवाने के नाम पर बहुत बड़ा पैसा विभाग को दिया गया किंतु सरकार की वह इसकीम भी भ्रष्टाचार का भेंट चढ़ गई अब इससे बड़ी शर्मिंदगी की बात क्या हो सकती है फिर भी चौराहे और चौपाल पर बैठकर ईमानदारी की बात करना कितनी शर्मिंदगी भरी है अरे भ्रष्ट हो तो भ्रष्टाचार को स्वीकार करो अन्यथा ईमानदारी से काम करिए और विभाग में भ्रष्टाचार को दूर करिए इस भ्रष्टाचार के कारण ही हमारी आधी आबादी भुखमरी के कगार पर है हमारे संसाधन सीमित हो रहे हैं लोग अपने लोक दायित्वों का निर्वहन अच्छे ढंग से नहीं कर रहे हैं

विभाग -विद्युतशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-19-07-2023शिकायत की स्थिति-

स्तर -जनपद स्तरपद -अधिशासी अभियन्‍ता,विघुत

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 19-06-2023 19-07-2023 अधिशासी अभियन्‍ता,विघुत-मिर्ज़ापुर,विद्युत अनमार्क

Beerbhadra Singh

To write blogs and applications for the deprived sections who can not raise their voices to stop their human rights violations by corrupt bureaucrats and executives.

Post a Comment

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

Previous Post Next Post