Deputy chief veterinary officer did not show the alertness in matter which is quite obvious from lackadaisical approach of concerned staff

 

Protection and health care of mother cow is our super most priority so concerned C.V.O. Mirzapur are requested not to overlook prayer

संदर्भ संख्या : 40019923007657 , दिनांक - 25 Apr 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019923007657

आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh

विषय-श्रीमान मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी महोदय मुझे अत्यंत खेद है कि आपका अधिनस्थ अभी तक गौ माता के उपचार के लिए नहीं पहुंचा महोदय प्रार्थी द्वारा दिया जाने वाला तीसरा आवेदन है जनसुनवाई पोर्टल पर और आपके स्टाफ गौ माता का इलाज करने नहीं आए क्या मैं इसे जनसुनवाई पोर्टल पर आए हुए शिकायतों के निस्तारण में असंवेदनशीलता समझू महोदय यहां पर दो प्रमुख कारक हैं जो आपको प्रेरित कर सकते हैं यहां आने के लिए पहली आप और आपके स्टाफ में गौ माता के प्रति निष्ठा दूसरी बात सरकार की गौ माता के प्रति उनके स्वास्थ्य के प्रति संवेदनशीलता उपरोक्त दोनों बातें यहां पर परिलक्षित नहीं होती हैं किंतु आपका अपना कर्तव्य परायणता शून्य महसूस हो रहा है महोदय आपके अधिनस्थ कहते हैं कि हम हर चौराहे पर जा जाकर पशुओं के झुंड में महामारी विरोधी टीका लगाते हैं महोदय जो अधीनस्थ कहने के लिए इस ढंग की कर्तव्य परायणता दिखाता है उसके कर्तव्य पालन में इतनी शिथिलता क्यों जब कथनी करनी में तब्दील होती है तभी व्यक्ति महान बनता है और यहां तो अपना कर्तव्य पालन भी नहीं हो रहा है कर्तव्य पालन में शिथिलता एक प्रकार की अनियमितता है और दूसरे शब्दों में कहें तो अनुशासनहीनता भी है आवेदनकर्ता का विवरण शिकायत संख्या -40019923007513 आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी महोदय यदि आपका अधिनस्थ 24 अप्रैल तक आएगा तो गौमाता मर जाएंगी और जब वे ऊपर चली जाएंगी तो आपका अधिनस्थ उनका इलाज कैसे करेगा जब वह आपके अधिनस्थ को दिखाई ही नहीं पड़ेगी नगर पालिका के कर्मचारी उनकी बॉडी को डिस्पोज कर देंगे आपका अधीनस्थ आ कर ही क्या करेगा जिस गौ माता के सहारे देश की बड़ी-बड़ी पार्टियां सत्ता में आ जाती हैं उस गौ माता को आप लोग इतनी लापरवाही से कैसे ले सकते हैं श्रीमान जी गौ माता को बचाइए आपको बहुत ही पुण्य मिलेगा श्रीमान जी मामला गौमाता से संबंधित है इसलिए अत्यंत संवेदनशील है क्योंकि यह लोगों के आस्था से संबंधित है हमारा देश धार्मिक मान्यताओं का देश है और गौ माता के प्रति लोगों की आस्था किसी से छिपी नहीं है श्रीमान जी प्रार्थी पुनः आपसे एक विनम्रता के साथ अनुरोध करता है कि आप अपने अधीनस्थ को शीघ्रता से भेजें जिससे गौमाता के जान को बचाया जा सके उनके जान की कीमत बहुत ही मूल्यवान है उनकी उपेक्षा आप लोग ना करें आवेदनकर्ता का विवरण शिकायत संख्या -40019923007440 आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh विषय-‌महोदय कल से ही एक गौ माता हमारे घर के सामने पड़ी हुई हैं कभी खड़ी होती हैं तो कभी बैठ जाती हैं एक पग भी चल नहीं पा रही हैं लगता है उनके पैर में कोई बीमारी है आप तो हर चौराहे पर आपके स्टाफ पहुंच पहुंचकर गौ माता का इलाज करते हैं किंतु गौमाता की यह दुर्दशा बड़ी ही दयनीय है सरकार गौमाता की दुर्दशा को बर्दाश्त नहीं करती है इसीलिए तो गौ माता के लिए आश्रय स्थल का जगह-जगह पर निर्माण कराया जा रहा है भले ही उस गौ माता के आश्रय स्थल बनवाने में कमीशन खोरी हो लेकिन सरकार पैसा दे रही है और बहुत बड़ी स्केल पर पैसा दे रही है महोदय प्रार्थी आपसे अपेक्षा करता है कि आप द्वारा अपने अधीनस्थों को भेजकर गौ माता का इलाज कराया जाएगा और शीघ्रता करें क्योंकि देरी करेंगे तो मर जाएगी और मरेगी तो इसकी भी सूचना शासन को भेजी जाएगी जैसा कि हमारा अभियान है इसलिए आप अपने अधीनस्थ को शीघ्र भेजकर गौ माता का इलाज करवाएं श्रीमान जी जब हमारी सरकार गौ माता के प्रति संवेदनशील है उनकी सुरक्षा के प्रति संवेदनशील है ऐसे में गौमाता बिना इलाज के मर जाएंगे तो हम समझते हैं कि सरकार को यह बर्दाश्त नहीं होगा इसलिए आप अपने अधीनस्थ को शीघ्र भेजें जिसके लिए हम सदैव आपके आभारी रहेंगे व्यक्ति अपने कर्मों से महान बनता है इसलिए महान बनिए गौ माता की सेवा करिए गौ माता की सेवा करके लोग प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री बन जा रहे हैं गौ माता की बहुत बड़ी महिमा है मैं सूचना देने वाला एक संदेश वाहक हूं गौ माता का संदेशवाहक हूं जो आप तक सूचना प्रसारण बाकी रही देखभाल करने की इलाज करने की वह आपके स्तर से होगा धन्यवाद आपको क्योंकि आप आएंगे और गौ माता का इलाज करेंगे विभाग -पशुपालनशिकायत श्रेण

Department -पशुपालनComplaint Category -

नियोजित तारीख-26-04-2023शिकायत की स्थिति-

Level -जनपद स्तरPost -मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक25-04-2023 को फीडबैक:-महोदय आप द्वारा 3 दिन तक प्रतीक्षा करवाया गया इसके बाद जब संबंधित लोग गाय को उठा ले गए ट्राली में डालकर तब पशु चिकित्सा अधिकारी महोदय के अधीनस्थ मौके पर आए जो की इनके रिपोर्ट से स्पष्ट है। 

Sir, you made us wait for 3 days, after that when the concerned people picked up the cow by putting it in the trolley, then the subordinate of the veterinary officer came to the spot, which is clear from his report. It is quite obviously no swift action was taken on the part of the deputy chief veterinary officer Mirzapur. Cow is the vulnerable animal and we regard cow as mother so it was the need of time you had to take action immediately.

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित दिनांक आदेश आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति आपत्ति देखे संलगनक

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 11-04-2023 मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी-मिर्ज़ापुर,पशुपालन 24-04-2023 उक्त शिकायत के क्रम मे उपमुख्य पशुचिकित्साधिकारी सदर द्वारा पशु का इलाज कर दिया गया है जिससे वे संतुष्ट है निस्तारित


Beerbhadra Singh

To write blogs and applications for the deprived sections who can not raise their voices to stop their human rights violations by corrupt bureaucrats and executives.

Post a Comment

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

Previous Post Next Post