Chief medical officer is not serious about the anomalies in the working of MCH wing of government women hospital

संदर्भ संख्या : 40019923008356 , दिनांक - 20 Apr 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019923008356

आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh

विषय-An application under Article 51A of the constitution of India on behalf of Dhiraj Singh whose address is Aawas Vikas colony district Mirzapur and the mobile number is 790585 3278 and pin code is 23101 Mirzapur City. Dhiraj Singh alleged that MCH wing of Government women hospital is the centre to refer the patients to private hospitals and earns commission. 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी महोदय प्रकरण को बंद करने से पहले धीरज सिंह का बयान और उनकी पत्नी महिमा सिंह का बयान होना चाहिए था यदि परिजन की बात करें तो धीरज सिंह ही महिमा सिंह के गार्जियन हुए और डॉक्टर मृदुला जायसवाल के क्लीनिक में डॉ पूजा मौर्य ने उपचार नहीं किया मरीज का तो किसने किया यह तो मुख्य चिकित्सा अधिकारी पूछताछ करके खुद ही जान सकते हैं महोदय इस जनपद में जितने भी प्राइवेट नर्सिंग होम या क्लीनिक हैं उन सभी का पंजीकरण मुख्य चिकित्सा अधिकारी महोदय के यहां होता है अर्थात सभी नर्सिंग होम और क्लीनिक निजी क्षेत्र के मुख्य चिकित्सा अधिकारी महोदय के निगरानी में चलते हैं तो इसमें कौन बहुत बड़ी चीज है क्योंकि सभी निजी अस्पतालों में सीसीटीवी लगा होता है उस पार्टिकुलर डेट का सीसीटीवी फुटेज देख सकते हैं आप । महोदय प्रार्थी द्वारा तो आपको मृदुला जायसवाल के प्राइवेट क्लीनिक का रसीद भी दिया गया है महोदय डॉक्टर मृदुला जायसवाल खुद तो बच्चों की डॉक्टर हैं तो फिर महिमा सिंह का शल्य चिकित्सा किसने किया क्योंकि डॉक्टर मृदुला जयसवाल तो कर नहीं सकती थी क्योंकि वह बच्चों की डॉक्टर है और वह दूसरा कौन है आप बताइए पूजा मौर्या ने शल्य चिकित्सा किया है तो दूसरा स्वीकार करने के लिए तैयार भी नहीं होगा इसलिए यह समीचीन है कि आप धीरज सिंह और उनकी पत्नी महिमा सिंह का बयान ले और महिमा सिंह से पूजा मौर्य की पहचान कराएं वह खुद ही बता देंगे कि उनका इलाज किया है या नहीं श्रीमान जी यदि कोई दूसरा डॉ है तो क्या वह महिमा सिंह को पहचान सकता है क्योंकि दूसरा डॉक्टर तभी नियमानुसार स्वीकार किया जा सकता है जब वह महिमा सिंह को पहचान सके और एक हफ्ते जब इलाज किया है तो महिमा सिंह को डॉक्टर जरूर पहचान लेगा

 चिकित्सा अधीक्षक एम०सी०एच० विंग. मीरजापुर। सेवा में, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला महिला चिकित्सालय, मीरजापुर। 

पत्रांक एम०सी०एच० मीरजापुर 2023-24 2 दिनांक 08.04.2022 

विषय IGRS संदर्भ सं0 40019923006868 द्वारा की गयी शिकायत की आख्या के संबन्ध में। महोदय, उपरोक्त विषयक आपके पत्रांक म०चि 2022-2306 दिनांक 06.04.2022 एवं IGRS संदर्भ सं0 40019923006868 के कम में आपको अवगत कराना है कि शिकायतकर्ता श्री धीरज सिंह द्वारा की गयी शिकायत के संबन्ध आख्या निम्नवत प्रेषित है 

1. श्रीमती महिमा सिंह, पत्नी श्री धीरज सिंह उम्र 31 वर्ष निवासिनी आवास विकास कॉलोनी, मीरजापुर, इस चिकित्सालय में भर्ती हुई, जिसका विवरण इस प्रकार है। क- पंजीकरण का दिनांक 03.02.2023 समय सायं 07 08 पंजीकरण सं0 1089 ख भर्ती का दिनांक 03.02.2023 समय सार्य 07 43 आई०पी०डी० सं० 543 

2. परामर्शदाता डॉ० पूजा मौर्या द्वारा उक्त मरीज का परीक्षण कर लेबरवार्ड में भर्ती किया गया, जहां प्राथमिक उपचार प्रारम्भ किया गया एवं ब्लड सेम्पल जांच हेतु इस चिकित्सालय के पैथोलोजी लैब में भेजा गया। 

3. ब्लड जांच रिपोर्ट में मरीज के प्लेटलेट की सं० मात्र 70000 थी, जो कि मानक से अत्यधिक कम था। इसको दृष्टिगत रखते हुये परामर्शदाता डॉ० पूजा मौर्या द्वारा Thrombocytopenia के कारणों का आकलन करते हुये उचित उपचार देखरेख हेतु मानक के अनुसार इस चिकित्सालय से BHU, वाराणसी स्वरूप रानी चिकित्सालय, प्रयागराज हेतु सरकारी एम्बूलेन्स द्वारा रात्रि समय 09 10 पर रेफर किया गया था, परन्तु मरीज के परिजनों द्वारा उक्त सुविधा लेने से असहमति व्यक्त करते हुये रेफर पंजिका पर हस्ताक्षर कर अपने मरीज को अन्यन्त्र ले गये। 

4. शिकायतकर्ता श्री धीरज सिंह का यह आरोप निराधार एवं असत्य है कि परामर्शदाता डॉ० पूजा मौर्या ने उक्त मरीज का उपचार इस चिकित्सालय में करने से इनकार किया एवं किसी अन्य चिकित्सालय में उनके द्वा

Department -चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याणComplaint Category -

नियोजित तारीख-05-05-2023शिकायत की स्थिति-

Level -जनपद स्तरPost -मुख्य चिकित्साधिकारी

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 20-04-2023 05-05-2023 मुख्य चिकित्साधिकारी-मिर्ज़ापुर,चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अनमार्क

 संदर्भ संख्या : 40019923008346 , दिनांक - 20 Apr 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019923008346

आवेदक का नाम-Yogi M. P. Singh

विषय-An application under Article 51A of the constitution of India on behalf of Dhiraj Singh whose address is Aawas Vikas colony district Mirzapur and the mobile number is 790585 3278 and pin code is 23101 Mirzapur City. Dhiraj Singh alleged that MCH wing of Government women hospital is the centre to refer the patients to private hospitals and earns commission. 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी महोदय प्रकरण को बंद करने से पहले धीरज सिंह का बयान और उनकी पत्नी महिमा सिंह का बयान होना चाहिए था यदि परिजन की बात करें तो धीरज सिंह ही महिमा सिंह के गार्जियन हुए और डॉक्टर मृदुला जायसवाल के क्लीनिक में डॉ पूजा मौर्य ने उपचार नहीं किया मरीज का तो किसने किया यह तो मुख्य चिकित्सा अधिकारी पूछताछ करके खुद ही जान सकते हैं महोदय इस जनपद में जितने भी प्राइवेट नर्सिंग होम या क्लीनिक हैं उन सभी का पंजीकरण मुख्य चिकित्सा अधिकारी महोदय के यहां होता है अर्थात सभी नर्सिंग होम और क्लीनिक निजी क्षेत्र के मुख्य चिकित्सा अधिकारी महोदय के निगरानी में चलते हैं तो इसमें कौन बहुत बड़ी चीज है क्योंकि सभी निजी अस्पतालों में सीसीटीवी लगा होता है उस पार्टिकुलर डेट का सीसीटीवी फुटेज देख सकते हैं आप । महोदय प्रार्थी द्वारा तो आपको मृदुला जायसवाल के प्राइवेट क्लीनिक का रसीद भी दिया गया है महोदय डॉक्टर मृदुला जायसवाल खुद तो बच्चों की डॉक्टर हैं तो फिर महिमा सिंह का शल्य चिकित्सा किसने किया क्योंकि डॉक्टर मृदुला जयसवाल तो कर नहीं सकती थी क्योंकि वह बच्चों की डॉक्टर है और वह दूसरा कौन है आप बताइए पूजा मौर्या ने शल्य चिकित्सा किया है तो दूसरा स्वीकार करने के लिए तैयार भी नहीं होगा इसलिए यह समीचीन है कि आप धीरज सिंह और उनकी पत्नी महिमा सिंह का बयान ले और महिमा सिंह से पूजा मौर्य की पहचान कराएं वह खुद ही बता देंगे कि उनका इलाज किया है या नहीं श्रीमान जी यदि कोई दूसरा डॉ है तो क्या वह महिमा सिंह को पहचान सकता है क्योंकि दूसरा डॉक्टर तभी नियमानुसार स्वीकार किया जा सकता है जब वह महिमा सिंह को पहचान सके और एक हफ्ते जब इलाज किया है तो महिमा सिंह को डॉक्टर जरूर पहचान लेगा चिकित्सा अधीक्षक एम०सी०एच० विंग. मीरजापुर। सेवा में, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक जिला महिला चिकित्सालय, मीरजापुर। पत्रांक एम०सी०एच० मीरजापुर 2023-24 2 दिनांक 08.04.2022 विषय IGRS संदर्भ सं0 40019923006868 द्वारा की गयी शिकायत की आख्या के संबन्ध में। महोदय, उपरोक्त विषयक आपके पत्रांक म०चि 2022-2306 दिनांक 06.04.2022 एवं IGRS संदर्भ सं0 40019923006868 के कम में आपको अवगत कराना है कि शिकायतकर्ता श्री धीरज सिंह द्वारा की गयी शिकायत के संबन्ध आख्या निम्नवत प्रेषित है 1. श्रीमती महिमा सिंह, पत्नी श्री धीरज सिंह उम्र 31 वर्ष निवासिनी आवास विकास कॉलोनी, मीरजापुर, इस चिकित्सालय में भर्ती हुई, जिसका विवरण इस प्रकार है। क- पंजीकरण का दिनांक 03.02.2023 समय सायं 07 08 पंजीकरण सं0 1089 ख भर्ती का दिनांक 03.02.2023 समय सार्य 07 43 आई०पी०डी० सं० 543 2. परामर्शदाता डॉ० पूजा मौर्या द्वारा उक्त मरीज का परीक्षण कर लेबरवार्ड में भर्ती किया गया, जहां प्राथमिक उपचार प्रारम्भ किया गया एवं ब्लड सेम्पल जांच हेतु इस चिकित्सालय के पैथोलोजी लैब में भेजा गया। 3. ब्लड जांच रिपोर्ट में मरीज के प्लेटलेट की सं० मात्र 70000 थी, जो कि मानक से अत्यधिक कम था। इसको दृष्टिगत रखते हुये परामर्शदाता डॉ० पूजा मौर्या द्वारा Thrombocytopenia के कारणों का आकलन करते हुये उचित उपचार देखरेख हेतु मानक के अनुसार इस चिकित्सालय से BHU, वाराणसी स्वरूप रानी चिकित्सालय, प्रयागराज हेतु सरकारी एम्बूलेन्स द्वारा रात्रि समय 09 10 पर रेफर किया गया था, परन्तु मरीज के परिजनों द्वारा उक्त सुविधा लेने से असहमति व्यक्त करते हुये रेफर पंजिका पर हस्ताक्षर कर अपने मरीज को अन्यन्त्र ले गये। 4. शिकायतकर्ता श्री धीरज सिंह का यह आरोप निराधार एवं असत्य है कि परामर्शदाता डॉ० पूजा मौर्या ने उक्त मरीज का उपचार इस चिकित्सालय में करने से इनकार किया एवं किसी अन्य चिकित्सालय में उनके द्वा

Department -चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याणComplaint Category -

नियोजित तारीख-05-05-2023शिकायत की स्थिति-

Level -जनपद स्तरPost -मुख्‍य चिकित्‍सा अधीक्षक/अधीक्षिका(महिला)

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 20-04-2023 05-05-2023 मुख्‍य चिकित्‍सा अधीक्षक/अधीक्षिका(महिला)-मिर्ज़ापुर,चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण अनमार्क

To see the attached document to the grievance, click on the attached link

Beerbhadra Singh

To write blogs and applications for the deprived sections who can not raise their voices to stop their human rights violations by corrupt bureaucrats and executives.

Post a Comment

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

Previous Post Next Post