google-site-verification: google652ee2e18330a276.html Yogi as anti-corruption crusader: Judiciary
Showing posts with label Judiciary. Show all posts
Showing posts with label Judiciary. Show all posts

Thursday, 15 April 2021

When the matter is sub judice, how can registry of land be made in the favour of third party by sub divisional magistrate Sadar

 Growing anarchy because of corruption and insensitive judiciary is root cause of entire problems. It seems that our democracy has been hijacked. 







Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0257686

Grievance Concerns To
Name Of Complainant
Vineet Kumar Maurya
Date of Receipt
15/04/2021
Received By Ministry/Department
Prime Ministers Office
Grievance Description
The matter concerns the corruption of office of sub divisional magistrate Sadar District Mirzapur who is running away from providing relevant reports on the grievances submitted on the PMO portal quite obvious from his fraudulent approach. Tehsil Sadar is acting by colluding with the Land Mafia root cause to run away from providing consistent report in the grievances.
प्रार्थी द्वारा जनसूचना आवेदन शुल्क निम्न ट्रांज़ैक्शन द्वारा किया गया
Dear Customer, Thx for INB txn of Rs.10 frm A/c X1675 to UP CYBER T. Ref IK0BBYIHX4 on 15Apr21. If not done, fwd this SMS to 9223008333 to block INB or call 1800111109-SBI
Dear Customer, OTP to approve transaction of Rs. 10.00 from your A/c No. ending 1675 to UP CYBER TREASURY is 96029555. Do not share with anyone. -SBI
प्रार्थी को वांछित सूचना
Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0191083
Grievance Concerns To Name Of Complainant Vineet Maurya
Date of Receipt 15/03/2021 Received By Ministry/Department Prime Ministers Office. More detail is attached to communique.
This grievance has been disposed of by concerned mandate with the comment that report is uploaded with due respect.
1-Please provide the uploaded report by concerned mandate regarding aforementioned registration number.
2-Please provide the action report in case the public staff says the report uploaded but fraudulently not uploaded by him.
3-Action taken in aforementioned grievance for fraudulent activity.
Grievance Document
Current Status
Grievance Received
Date of Action
15/04/2021
Officer Concerns To
Forwarded to
Prime Ministers Office
Officer Name
Shri Ambuj Sharma
Officer Designation
Under Secretary (Public)
Contact Address
Public Wing 5th Floor, Rail Bhawan New Delhi
Email Address
ambuj.sharma38@nic.in
Contact Number
011-23386447
Arun Pratap Singh <arunpratapsingh904@gmail.com>

Bank transaction successful but they did not complete last stage to send registration number.
1 message

Arun Pratap Singh <arunpratapsingh904@gmail.com>15 April 2021 at 09:59
To: RTI-Online <onlinertihelpline.up@gov.in>, cmup <cmup@up.nic.in>, hgovup@up.nic.in, csup@up.nic.in, uphrclko@yahoo.co.in, supremecourt <supremecourt@nic.in>, pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, sec.sic@up.nic.in, urgent-action <urgent-action@ohchr.org>, presidentofindia@rb.nic.in

Whether third grade services provided by the government may be an indication of good governance but few flatterers are stumbling blocks in reaching true voice to pioneering bodies.
Whether R.T.I. website is again in dilapidated state because of lack of proper maintenance?
प्रार्थी द्वारा जनसूचना आवेदन शुल्क निम्न ट्रांज़ैक्शन द्वारा किया गया 
Dear Customer, Thx for INB txn of Rs.10 frm A/c X1675 to UP CYBER T. Ref IK0BBYIHX4 on 15Apr21. If not done, fwd this SMS to 9223008333 to block INB or call 1800111109-SBI

Dear Customer, OTP to approve transaction of Rs. 10.00 from your A/c No. ending 1675 to UP CYBER TREASURY is 96029555. Do not share with anyone. -SBI
प्रार्थी को वांछित सूचना 
Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0191083
Grievance Concerns To Name Of Complainant Vineet Maurya
Date of Receipt 15/03/2021 Received By Ministry/Department Prime Ministers Office. More detail is attached to communique.
This grievance has been disposed of by concerned mandate with the comment that report is uploaded with due respect.
1-Please provide the uploaded report by concerned mandate regarding aforementioned registration number.
2-Please provide the action report in case the public staff says the report uploaded but fraudulently not uploaded by him.  
3-Action taken in aforementioned grievance for fraudulent activity. 
 RAJKOSH.UP.NIC.IN Page Error

Something goes wrong. Please try again.

Return to the Home Page.

 

Pasted from <https://rajkosh.up.nic.in/paygateway/challanru.aspx

This is a humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can anyone justify to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos arbitrarily by making the mockery of law of land? There is need of the hour to take harsh steps against the wrongdoer to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy. For this, your applicant shall ever pray for you, Hon’ble Sir.

Date-15/04/2021                                                                 Yours sincerely

                           Vineet Maurya S/O Bhairo Prasad Maurya, Mobile number-7887200402Tahsil-Sadar, Police station-Kotwali Dehat, District-Mirzapur, Uttar Pradesh, Pin code-231001. 

Document.pdf
462K

Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0191083

Grievance Concerns To
Name Of Complainant
Vineet Maurya
Date of Receipt
15/03/2021
Received By Ministry/Department
Prime Ministers Office
Grievance Description
Redressal of the grievance is done on the basis of the merit of the contents of the submitted grievance and when the wrongdoing was made by the sub divisional magistrate Sadar then how the grievances can be redressed by the tehsildar Sadar who is the subordinate of the sub divisional magistrate Sadar? Whether the Government of Uttar Pradesh takes action against the land mafia in such a 3rd grade standard manner?
संदर्भ संख्या : 40019920025864 , दिनांक - 14 Mar 2021 तक की स्थिति आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40019920025864 आवेदक का नाम-Vineet Kumar Maurya श्री मान जी न्यायिक और प्रशासनिक निर्णयों का आधार तर्क होता है श्री मान जी प्रथम पेज संलग्नक का तहसीलदार सदर की आख्या दिनांक ०२ मार्च २०२१ है जिसमे उनका निस्तारण का आधार पुलिस द्वारा मामले में दबाव बना कर समझौता कराना और मामला न्यायालय में विचाराधीन है इसलिए हस्तक्षेप से इंकार है महोदय संलग्नक का द्वितीय पेज क्षेत्राधिकारी सदर की आख्या दिनांक २० दिसंबर २०२० जिसके अनुसार जमीन की रजिस्ट्री एक तीसरे पार्टी को की गई जिसकी मालिकाना तीसरी पार्टी को पुलिस और तहसील में मिलजुल कर किया है गौर करने की बात यह है की मालिकाना का बिबाद दो पक्षों के बीच है जब की तहसील द्वारा तीसरे पक्ष को मालिकाना हक़ प्रदान करके पुलिस के माध्यम से जमीन का कब्ज़ा करा दिया गया और पुलिस द्वारा यह दबाव उपजिलाधिकारी सदर की वजह से बनाया गया अब प्रश्न यह है की भू माफियाओं के दबाव में आकर उपजिलाधिकारी सदर द्वारा नियम विरुद्ध अराजकता पूर्ण कार्य क्यों किया गया प्रार्थी तो न्यायालय के कार्यक्षेत्र में अनधिकृत प्रवेश करने के लिए उपजिलाधिकारी सदर के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही की मांग करता है साथ ही एक उच्च स्तरीय जांच जो ईमानदारी से प्रशासन और भू माफिया के गठजोड़ को अनावरण करे जिनके समक्ष न्यायालय भी नपुंसक बन गया है श्री मान जी महत्वपूर्ण तथ्य यह है की उपजिलाधिकारी सदर द्वारा सिविल न्यायालय की कार्यवाही में अनावश्यक हस्तक्षेप करने और अधिकारिता को दातो तले लेना कौन सा कैनन लॉ न्यायोचित ठहरा रहा है श्री मान जी संलग्नक संलग्नक के पेज ३ व ४ देखे दिनांक20-02-2021 को फीडबैक:-महोदय अविवेक पूर्ण निस्तारण केवल शिकायतों की संख्या को बढाता है दिनांक २५०१२०२१ की रिपोर्ट उपजिलाधिकारी की और से प्रस्तुत किया गया है जिसमे उन्होंने यह कह कर मुक्ति पा ली की मामला पुलिस से सम्बंधित है क्यों की पुलिस द्वारा दबाव बना कर सुलह कराया गया है जब की प्रार्थी द्वारा निवेदन का सारांश कुछ इस प्रकार है क्षेत्राधिकारी सदर की रिपोर्ट दिनांक २० दिसंबर २०२० के अनुसार उपजिलाधिकारी के आदेश का पालन करने के क्रम में जमीन का सीमांकन पुलिस द्वारा निश्चित कराया गया और अपराधिक दंड संहिता की धारा १०७१६ का उपयोग पक्षों पर लगा करके पुलिस द्वारा शांति कायम किया गया है यह कैसे न्यायोचित है क्या उत्तर प्रदेश सरकार इस आराजकता को रोकेगी जब मुकदमे का निर्णय सक्षम सिविल न्यायालय में मामले से सम्बंधित जमीन के टाइटल से सम्बंधित लंबित है तो कैसे विपक्ष द्वारा तीसरे पक्ष को जमीन की रजिस्ट्री कर दी जो की संलग्न दस्तावेजों से स्पस्ट है सरकारी तंत्र में कहा ईमानदारी है यदि जमीन का बिबाद न्यायालय में लंबित है तो कैसे प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस मिलकर जमीन का मालिकाना हक़ तीसरे पक्ष को दे सकते है अर्थात उपजिलाधिकारी महोदय को आंग्ल भाषा का थोड़ा भी ज्ञान नहीं है इसलिए उन्होंने वही दिसंबर की रिपोर्ट को जनवरी के आख्या में दुहराया है जब की यह प्रकरण खुद उपजिलाधिकारी को ही बिधि विरुद्ध कार्यवाही करने का दोषी मानता है और आरोप खुद उपजिलाधिकारी के विरुद्ध है क्यों की पुलिस की कार्यवाही उपजिलाधिकारी के आज्ञा के अधीन है इसलिए पुलिस दोषी नहीं है बल्कि न्यायाल के क्षेत्राधिकार में उपजिलाधिकारी द्वारा अतिक्रमण किया गया है भू माफिया से साथ मिलकर जो की भ्रष्टाचार को दर्शाता है
Grievance Document
Current Status
Case closed
Date of Action
03/04/2021
Remarks
सम्बंधित आख्या अपलोड है आख्या अपलोड कर सेवा में सादर प्रेषित है आख्या अपलोड कर सेवा में सादर प्रेषित है
Rating
Poor
Rating Remarks
Dear Customer, Thx for INB txn of Rs.10 frm A/c X1675 to UP CYBER T. Ref IK0BBYIHX4 on 15Apr21. If not done, fwd this SMS to 9223008333 to block INB or call 1800111109-SBI Dear Customer, OTP to approve transaction of Rs. 10.00 from your A/c No. ending 1675 to UP CYBER TREASURY is 96029555. Do not share with प्रार्थी को वांछित सूचना Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0191083 Grievance Concerns To Name Of Complainant Vineet Maurya Date of Receipt 15/03/2021 Received By Ministry/Department Prime Ministers Office. More detail is attached to communique. This grievance has been disposed of by concerned mandate with the comment that report is uploaded with due respect. 1-Please provide the uploaded report by concerned mandate regarding aforementioned registration number. 2-Please provide the action report in case the public staff says the report uploaded but fraudulently not uploaded by him. 3-Action taken in aforementioned grievance for fraudulent activity.
Officer Concerns To
Officer Name
Shri Bhaskar Pandey
Officer Designation
Joint Secretary
Contact Address
Chief Minister Secretariat Room No.321 U.P. Secretariat, Lucknow
Email Address
bhaskarpandey2214@gmail.com
Contact Number
2226350

Wednesday, 14 April 2021

How the barbaric assault on an innocent by the criminal elements is being shielded by the Lucknow police in Yogi Govt. ?

 













Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0256877

Grievance Concerns To
Name Of Complainant
Ashutosh Singh
Date of Receipt
14/04/2021
Received By Ministry/Department
Prime Ministers Office
Grievance Description
श्री मान जी  विवेचक महोदय की आख्या चौंकाने वाली है श्रीमान जी जहां विवेचक महोदय धक्का मुक्की की बात कर रहे है  वही पर यदि आप संलग्न मेडिकल रिपोर्ट और प्रार्थी के बहते खून और आखो की स्वेलिंग देखे तो आप को खुद महसूस हो जाएगा की सम्बंधित पुलिस की विश्वसनीयता क्या है इसलिए यह स्पस्ट है की    शिकायत संख्या:-40015721023892 आवेदक का नाम-Ashutosh Singh का निस्तारण गुण  दोष के आधार पर नहीं हुआ है बल्कि विवेचक द्वारा बिना विषयवस्तु का परिशीलन किये मनमाने तरीके से किया गया है और ऐसा निस्तारण अपराधियों को लाभ पहुंचाने के उद्देश्य से किया गया है महोदय जब सीधे प्रमाण है और पुलिस इन प्रमाणों की अनदेखी कर रही है और प्रत्यावेदन प्रस्तुत करने में प्रार्थी द्वारा कोई कोताही नहीं की गयी तो सोचिये सामान्य आदमी को क्या इस आराजकता  में न्याय मिल सकता है श्री मान जी तीसरे और चौथे आपराधिक खड्यंत्र को जो की प्रार्थी को जान से मारने का प्रयास किया गया सरोजनी नगर पुलिस क्यों नजर अंदाज कर रही है इससे तो यही प्रतीत होता है की तीसरा और चौथा हमला पुलिस को विश्वास में ले कर किया गया श्री मान जी पुलिस को लिखित तहरीर दिया गया किन्तु सरोजनी नगरपुलिस द्वारा अभी तक प्रथम सूचना रिपोर्ट तक दर्ज नहीं किया गया है श्रीमान जी क्या वे १५ अपराधी असलहो से लैस हो कर प्रार्थी को मारने पुलिस के सह से आये थे यदि नहीं पुलिस प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करने में टालमटोल क्यों कर रही है यह भी हो सकता है की पुलिस खुद ही अपराधियों से भयाक्रांत हो अन्यथा कार्यवाही करने में कोताही क्यों 

संदर्भ संख्या : 40015721023892 , दिनांक - 14 Apr 2021 तक की स्थिति आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40015721023892 आवेदक का नाम-Ashutosh Singh
 अंतरित क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त (पुलिस ) 03-04-2021 कृपया उपरोक्त सबंध में तत्काल नियमानुसार कार्यवाही कर कृत कार्यवाही से अवगत कराने का कष्ट करें थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-सरोजनी नगर,जनपद-लखनऊ,पुलिस 10-04-2021 श्रीमान जी शिकायती आख्या सादर सेवा में प्रेषित है। निस्तारित
विषय-श्री मान जी अपराधियों को भारतीय दंड विधान की धारा  ३०७ में निरुद्ध किया जानासमीचीन होगाक्योकि उनका हौसला बढ़ा हुआ है और वे लोग प्रार्थी पर दो बार जान लेवाहमला कर चुके है आज तीसरी बार शाम पांच बजे १५ अराजक तत्व लाठीडंडे और राड से लैस होकर जिनके पास अत्याधुनिक असलहे भी थे प्राथी  के आवास applicant Ashutosh SinghS/O Mr Narendra Pratap Singh APC State II A  Literacy House Kanpur Road Lucknow पर धावाबोले जो प्रदेश की राजधानी में कानून की बिगड़ती दशा का द्योतक है यह महत्वपूर्ण है की क्या उन १५ दहसत गर्दो में प्रदेश की कानून ब्यवस्था का भय है क्यासम्बन्धित पुलिस अधिकारी तीसरा प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्जकरेंगे या अपराधियों बढे हुए मनोबल को परदेके पीछे से संजीवनी देंगे श्री मान जी पुलिस के समक्ष जान से मारने की धमकीदेना ही पुलिस की असलीपोल खोल रहा है क्याइन पंद्रह दहसत गर्दो को पुलिस का आशीर्वाद प्राप्त जो खुले आम एक शहरी को बार बार जान से मारने का प्रयास कर रहे है क्या सम्बंधित पुलिस कोई कार्यवाही की या सिर्फ मामले का तमाशबीन बन के रह जाएगी योगी आदित्यनाथ की कुर्सी के नीचेयह क्यातमाशा हो  रहा कानून व्यवस्था का नंगा नाच फिर भी कानून व्यवस्था चुस्त दुरुस्त अर्थात सच से कोसो दूर श्री मान जी १५ लोगो के विरुद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्जकरके बलवा का मुक़दमा कायम कियाजाय और प्रार्थी को सुरक्षा प्रदान की जाए अन्यथा प्रार्थी की मृत्यु के लिए प्रशासन जिम्मेदार होगाक्यों की वरिष्ठ अधिकारिओं के संज्ञान में है मामला फिर भी निचला स्तर  खड्यंत्र करने से बाज नहीं आ रहा है प्रार्थी को पुलिस की सुरक्षा प्रदान की जाए
Grievance Document
Current Status
Grievance Received
Date of Action
14/04/2021
Officer Concerns To
Forwarded to
Prime Ministers Office
Officer Name
Shri Ambuj Sharma
Officer Designation
Under Secretary (Public)
Contact Address
Public Wing 5th Floor, Rail Bhawan New Delhi
Email Address
ambuj.sharma38@nic.in
Contact Number
011-23386447

Four times criminal assaults to murder youth in 15 days, Lucknow police is procrastinating on two and subsequent two assaults overlooked

 







Beerbhadra Singh <myogimpsingh@gmail.com>

Bank transaction successful but they did not complete last stage to send registration number.
1 message

Beerbhadra Singh <myogimpsingh@gmail.com>Wed, Apr 14, 2021 at 4:56 PM
To: RTI-Online <onlinertihelpline.up@gov.in>, cmup@up.nic.in, hgovup@up.nic.in, csup@up.nic.in, uphrclko@yahoo.co.in, supremecourt <supremecourt@nic.in>, pmosb <pmosb@pmo.nic.in>, sec.sic@up.nic.in, urgent-action <urgent-action@ohchr.org>, presidentofindia@rb.nic.in
Whether third grade services provided by the government may be an indication of good governance but few flatterers are stumbling blocks in reaching true voice to pioneering bodies.
Whether R.T.I. website is again in dilapidated state because of lack of proper maintenance?
प्रार्थी द्वारा जनसूचना आवेदन शुल्क निम्न ट्रांज़ैक्शन द्वारा किया गया 
 14 Apr 2021 TO TRANSFER-INB UP CYBER TREASURYRTI210022036IK0 BBYARA0 TRANSFER TO 3 10.00   
Following is the message sent on the registered mobile number of the applicant as
Dear Customer, OTP to approve transaction of Rs. 10.00 from your A/c No. ending 1675 to UP CYBER TREASURY is 93449308. Do not share with anyone. -SBI
Dear Customer, Thx for INB txn of Rs.10 frm A/c X1675 to UP CYBER T. Ref IK0BBYARA0 on 14Apr21. If not done, fwd this SMS to 9223008333 to block INB or call 1800111109-SBI
प्रार्थी को वांछित सूचना 

  संदर्भ संख्या : 40015721024826 , दिनांक - 14 Apr 2021 तक की स्थिति आवेदनकर्ता का विवरण :शिकायत संख्या:-40015721024826 आवेदक का नाम-Ashutosh Singh
अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 06-04-2021 06-05-2021 क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त-क्षेत्राधिकारी कृष्णा नगर ,जनपद-लखनऊ,पुलिस अनमार्क
1-Provide the name and designation processing aforementioned grievance submitted on the Jansunwai portal of the government of Uttar Pradesh. 
2-Provide the status of the grievance within 24 hours as matter concerns the death threat of the information seeker as four successive assaults took place.
संदर्भ संख्या : 40015721023892 , दिनांक - 14 Apr 2021 तक की स्थिति आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40015721023892 आवेदक का नाम-Ashutosh Singh
 अंतरित क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त (पुलिस ) 03-04-2021 कृपया उपरोक्त सबंध में तत्काल नियमानुसार कार्यवाही कर कृत कार्यवाही से अवगत कराने का कष्ट करें थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-सरोजनी नगर,जनपद-लखनऊ,पुलिस 10-04-2021 श्रीमान जी शिकायती आख्या सादर सेवा में प्रेषित है। निस्तारित
3-Provide the reason for not lodging F.I.R. in the third and fourth successive criminal activities by the criminal elements. 
4-First goons in the group of 15 equipped with weapons committed premises trespass and threatened to kill information seeker with hurling abuses thereafter again made attempt to murder information seeker. Please provide the reason for not lodging F.I.R. as the police concerned are informed regarding attempt to murder information seeker by gansters.

RAJKOSH.UP.NIC.IN Page Error

Something goes wrong. Please try again.

Return to the Home Page.

 

Pasted from <https://rajkosh.up.nic.in/paygateway/challanru.aspx

This is a humble request of your applicant to you Hon’ble Sir that how can anyone justify to withhold public services arbitrarily and promote anarchy, lawlessness and chaos arbitrarily by making the mockery of law of land? There is need of the hour to take harsh steps against the wrongdoer to win the confidence of citizenry and strengthen the democratic values for healthy and prosperous democracy. For this, your applicant shall ever pray for you, Hon’ble Sir.

Date-14/04/2021                                                                 Yours sincerely

                            Ashutosh Singh S/O Mr Narendra Pratap Singh Mobile number-8687593247 APC State II A  Literacy House, Kanpur Road, Lucknow. 

Tuesday, 13 April 2021

Whether the belongings of the vulnerable section especially women and girls are safe in the regime of Yogi Adityanath

 


Grievance Status for registration number : PMOPG/E/2021/0184510

Grievance Concerns To
Name Of Complainant
Sugun Singh
Date of Receipt
11/03/2021
Received By Ministry/Department
Prime Ministers Office
Grievance Description
श्री मान जी पुलिस को निदेशित किया जाय फसल की मड़ाई करके विपक्षी अपने घर में न रखे वल्कि प्रार्थिनी का हिस्सा स्पस्ट किया जाय श्री मान जी खसरा खतौनी में प्रार्थी के पति अब पत्नी और दो बच्चो का नाम और दबगई यह की हिस्सा ही नहीं देना चाहते है 
सेवा में                          
पुलिस अधीक्षक                    
जिला – मिर्ज़ापुर, उत्तर प्रदेश
विषय –अशोक कुमार सिंह उर्फ अंगद सिंह पुत्र सुरुजू सिंह ग्राम- बबुरा,  पोस्ट –बबुरा थाना –विन्ध्याचल , जिला –मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश पिन कोड २३१३०७ द्वारा प्रार्थी की फसल काटने के सम्बन्ध में
महोदय                      
प्रार्थिनी श्री मान का ध्यान निम्न विन्दुओं पर आकृष्ट करती है 
१-प्रार्थिनी सुगुन सिंह पति  दिवंगत  कृष्ण कुमार सिंह एक विधवा है जिसका पता निम्न है 
सुगुन सिंह पत्नी कृष्ण कुमार सिंह ग्राम- बबुरा,  पोस्ट –बबुरा थाना –विन्ध्याचल , जिला –मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश पिन कोड २३१३०७ 
२- अशोक कुमार सिंह उर्फ अंगद सिंह जो की प्रार्थिनी के पति के बड़े भाई है प्रार्थिनी के हिस्से की भी फसल काट लिए 
३- प्रार्थिनी द्वारा मना किये जाने पर प्रार्थिनी को धमकी दिए 
४-श्री मान जी प्रार्थिनी के साथ यह अन्याय किस तरह से उचित है 
५- श्री मान जी आप थानाध्यक्ष विंध्याचल की निर्देश दे की प्रकरण में नियमानुसार कार्यवाही करे 
६- श्री मान जी प्रार्थिनी के हिस्से की फसल प्रार्थिनी को दिलाई जाय जिससे न्याय हो                                                  
श्री मान जी प्रार्थिनी इस आराजकता की वजह से बेबस है यहां भाई भाई की संपत्ति हड़पना चाहता है सच है पूर्ण कलियुग आ गया है श्री मान उचित कार्यवाही करके प्रार्थिनी को न्याय दिलाये                                                                                    
प्रार्थिनी                                                                                   सुगुन सिंह
Current Status
Case closed
Date of Action
08/04/2021
Remarks
सम्बंधित आख्या अपलोड है आख्या अपलोड कर सेवा में सादर प्रेषित है आख्या अपलोड कर सेवा में सादर प्रेषित है
Reply Document
Rating
Poor
Rating Remarks
Here it is quite obvious that role of the sub divisional magistrate Sadar is not impartial as he has submitted an inconsistent arbitrary report on the public grievance portal of the Government of India. From the report of the sub-divisional magistrate it is quite obvious that opposition has grabbed the land of the the vulnerable lady and grabbing of land is a criminal matter as quite obvious that this land belongs to the vulnerable lady and her children so action must be taken against the public staff who submitted the report on this portal in such an irresponsible manner so that vulnerable lady may get justice. It was the obligatory duty of the sub divisional magistrate Sadar to be instrumental in lodging the first information report in the matter against the land grabbers who were using the muscle powers to grab the land of vulnerable lady quite obvious from the report of the concerned staff of the tehsil Sadar who has said that opposition has grabbed the land of vulnerable lady.
Officer Concerns To
Officer Name
Shri Bhaskar Pandey
Officer Designation
Joint Secretary
Contact Address
Chief Minister Secretariat Room No.321 U.P. Secretariat, Lucknow
Email Address
bhaskarpandey2214@gmail.com
Contact Number
2226350


Patient is suffering in this undeclared curfew in Uttar Pradesh because of breathing problem such is mismanagement Covid 19

  Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2021/21639 Grievance Concerns To Name Of Complainant Yogi M. P. Singh Date of Receipt 0...