Tuesday, January 3, 2023

Project manager, Ganges pollution control unit, 14 M.L.D. S.T.P. Campus, Ramaipatti submitted satisfactory report and executed work fairly



संदर्भ संख्या : 40019922027080 , दिनांक - 03 Jan 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019922027080

आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्रीमान जी प्रार्थी आपको स्मरण कराना चाहता है कि कुछ वर्षों पहले भी इस सुरेकापुरम कॉलोनी में सीवर का निर्माण हुआ था किंतु वह सीवर करोड़ों रुपए खर्च करने के पश्चात भी सफल नहीं हुआ महत्वपूर्ण तथ्य है कि विभागीय अधिकारियों कि कोई जवाबदेही तो बनती नहीं एक ही जगह पर कितनी बार सीवर बनाएंगे कितनी बार सड़कें तोड़ेंगे कितनी बार लोगों के जीवन को नर्क बनाएंगे आज भी सुरेकापुरम के ऊपरी वाले हिस्से का पानी नीचे आता है दो दो बार जब कि सीवर का निर्माण हो चुका है यहां पर बहुत महत्वपूर्ण तथ्य यह है कि हमारी सरकारें कितना असंवेदनशील है और हमारे अधिकारी और कर्मचारी कितने अयोग्य हैं कि आप का कोई भी कार्य सफल नहीं होता किंतु इसके बावजूद भी कोई जवाबदेही नहीं होती कार्यों में कोई पारदर्शिता नहीं होती जेनुइन आवेदनों को कूड़े के टोकरी में फेंक दिया जाता है और फिर जो आवेदन देता है कहते हैं कि लगता है डिस्टर्ब है इन से क्या लेना देना है जरूर आपसे लेना देना है क्योंकि आप तो लाखों का नहीं करोड़ों का चपत लगाते हैं आपकी कोई भी योजनाएं सफल नहीं होती हैं लेकिन आपकी जवाबदेही कौन तय करेगा अरे जवाबदेही वही तय कर सकता है जो ईमानदार हो जिसकी छवि अच्छी हो एक भ्रष्टाचारी भ्रष्टाचार को थोड़ी चेक कर सकता है श्रीमान जी प्रार्थी द्वारा जन सूचना अधिनियम 2005 के तहत कई आवेदन प्रस्तुत किए गए किंतु जहां पर जाता है वहीं पर उसे रोक लिया जाता है सभी एक दूसरे का सहयोग दे रहे हैं इस भ्रष्टाचार में श्रीमान जी प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के समक्ष यह चिल्लाने से कि मैं ईमानदार हूं मैं ईमानदार हूं कोई ईमानदार थोड़े हो जाता है इमानदारी तो वह चीज है जो व्यक्ति के कार्य में झलकती है अरे भ्रष्टाचार पूर्ण कार्य करेंगे और कहेंगे जनता से कि मुझे ईमानदार कहो मुझसे बड़ा इस दुनिया में कोई ईमानदार है ही नहीं अरे कहने से कोई ईमानदार हो जाएगा ईमानदारी कार्यशैली में होनी चाहिए अगर इमानदार वास्तव में कहलवाना चाहते हो तो ईमानदार बनो वह कार्यशैली में झलके शिकायत संख्या -40019922025550 आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-, श्रीमान जी जहां एक और मोदी सरकार का सतर्कता विभाग न हीं सिर्फ अधिकारियों से वल्कि सामान्य जनता से भी शपथ पत्र ले रही है ईमानदारी का वहीं पर योगी सरकार सिर से लेकर पैर तक भ्रष्टाचार के चपेट में है इसका जीता जागता उदाहरण मिर्जापुर का नमामि गंगे विभाग जिसमें प्रार्थी द्वारा दर्जनों से अधिक पत्र लिखे गए भ्रष्टाचार की जांच कराने के लिए किंतु विभाग का माहौल ऐसा है जैसे लगता है कि उस विभाग में भ्रष्टाचार ही होता है इसके अलावा और कुछ होता ही नहीं सारे विकास कार्य का पैसा अधिकारी कर्मचारी ठेकेदार सब मिलकर खा गए जो सुरेकापुरम में मुलायम सिंह के समय में सड़क बनी थी उसको तोड़ दिए 2 वर्ष पहले और इस आश्वासन के साथ नमामि गंगे सीवर बनवाएगा उसके साथ समस्त रोड की अच्छे ढंग से मरम्मत कराएगा और यहां से बोल्डर सब हट जाएंगे किंतु पहले से भी खराब रोड इन्होंने दिया और जो पुराना रोड था उसे तोड़कर उसकी रिपेयरिंग तक इन्होंने नहीं कराया और बालू से ढोके को जोड़ा गया है वह बालू उड़-उड़ के लोगों के नाक में जाता है सुरेकापुरम में बीमारी फैल रही है नालियों को तोड़ दिए हैं पानी जगह-जगह ऊपर बह रहा है किंतु कोई देखने वाला नहीं है जब भ्रष्टाचार का बोलबाला होगा तो सभी अपनी आंख और कान बंद कर लेते हैं The matter concerns the department of Namami Gange, Government of Uttar Pradesh District-Mirzapur for enquiry into developmental activities carried out concerning sewage work in Surekapuram colony. श्रीमान जी पूर्व में भी कई आवेदन दे चुका हूं और अभी भी दे रहा हूं और पुनः स्मरण कराता हूं कि दस्तावेज लेकर आइए और पूरे मोहल्ले में चलकर देखिए कि जितना सरकार का फंड खर्च हुआ है उसी हिसाब से कार्य हुआ है या नहीं किंतु आपको कभी समय नहीं मिलेगा

विभाग -शिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-01-01-2023शिकायत की स्थिति-

स्तर -जनपद स्तरपद -जिलाधिकारी

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित दिनांक आदेश आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति आपत्ति देखे संलगनक

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 02-12-2022 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, 13-12-2022 आख्या श्रेणी - प्रकरण सुझाव श्रेणी का है

शिकायतकर्ता उपरोक्त की जांच आख्या संलग्न है । निस्तारित

संदर्भ संख्या : 40019922026675 , दिनांक - 03 Jan 2023 तक की स्थिति
आवेदनकर्ता का विवरण :
शिकायत संख्या:-40019922026675
आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्रीमान जी आज कार्यदाई संस्था इंफराकान का ठेकेदार आया था उन महोदय के पास प्रार्थी द्वारा प्रस्तुत किया गया प्रत्यावेदन था जो मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा गंगा प्रदूषण यूनिट मिर्जापुर को संदर्भित था प्रार्थी को बहुत आश्चर्य हुआ यह देखकर की आजकल सरकार के कार्य अवर अभियंता सहायक अभियंता और अधिशासी अभियंता न करके ठेका लेने वाली कंपनियों के कर्मचारी किया करते हैं क्या करेंगे जब पारदर्शिता और जवाबदेही का पूर्ण रूप से अभाव हो जाएगा सरकार में तो, उन सज्जन महोदय के द्वारा सड़क पर पानी डाला गया निवासियों से पाइप के द्वारा कनेक्शन जोड़कर और फिर वह मेरे पास आए और कहे कि अब पानी डाल दिया गया है आप लिख दीजिए कि हम संतुष्ट हैं जिससे हम लोगों के मजदूरी का भुगतान विभाग कर दे श्रीमान जी प्रार्थी द्वारा कभी भी इस बात के लिए प्रत्यावेदन नहीं प्रस्तुत किया गया है की सड़क पर पानी डालने से सड़क का निर्माण हो जाएगा उसमें पानी डालने की कमी है क्योंकि सभी जानते हैं सड़क का निर्माण पानी से नहीं होता उसके साथ और भी मटेरियल लगते हैं अब आप बोल्डर लगा दिए जो पिछला था बालू गंगाजी के लगा दिए और आज पानी भी डाल दिए किंतु इससे तो सड़क नहीं बन जाएगी यदि आप कहते हैं कि हम पुरानी सड़क को रिपेयर करेंगे तो पुरानी सड़क तो कोलतार से बनी थी बोलेरो के बीच कौन सा डाला गया था क्या आपको उधर डालेंगे वह भी नहीं कर सकते क्योंकि कोलतार इस समय बहुत महंगा है किंतु सड़क कार्य तो सही कराइए सड़क को अच्छे ढंग से सपोर्ट दीजिए बालों में सीमेंट का घोल डाल दीजिए जिससे बाल उड़े लेकिन आप तो कुछ भी नहीं करना चाहते सारा का सारा पैसा खड़पकर जाना चाहते हैं कंपनी और संबंधित अधिकारी गण मिलकर सुरेखा पुरम के निवासी आपसे कैसे संतुष्ट हो सकते हैं पुरानी जैसे ही सड़क बना दीजिए प्रार्थी कभी भी आप का विरोध नहीं करेगा किंतु पुरानी सड़क को नष्ट कर डाले इस बात का विरोध हमेशा होता रहेगा यदि आप चलने लायक नहीं देते हैं तो The matter concerns the department of Namami Gange, Government of Uttar Pradesh District-Mirzapur for enquiry into developmental activities carried out concerning sewage work in Surekapuram colony. श्रीमान जी जहां एक और मोदी सरकार का सतर्कता विभाग न हीं सिर्फ अधिकारियों से वल्कि सामान्य जनता से भी शपथ पत्र ले रही है ईमानदारी का वहीं पर योगी सरकार सिर से लेकर पैर तक भ्रष्टाचार के चपेट में है इसका जीता जागता उदाहरण मिर्जापुर का नमामि गंगे विभाग जिसमें प्रार्थी द्वारा दर्जनों से अधिक पत्र लिखे गए भ्रष्टाचार की जांच कराने के लिए किंतु विभाग का माहौल ऐसा है जैसे लगता है कि उस विभाग में भ्रष्टाचार ही होता है इसके अलावा और कुछ होता ही नहीं सारे विकास कार्य का पैसा अधिकारी कर्मचारी ठेकेदार सब मिलकर खा गए जो सुरेकापुरम में मुलायम सिंह के समय में सड़क बनी थी उसको तोड़ दिए 2 वर्ष पहले और इस आश्वासन के साथ नमामि गंगे सीवर बनवाएगा उसके साथ समस्त रोड की अच्छे ढंग से मरम्मत कराएगा और यहां से बोल्डर सब हट जाएंगे किंतु पहले से भी खराब रोड इन्होंने दिया और जो पुराना रोड था उसे तोड़कर उसकी रिपेयरिंग तक इन्होंने नहीं कराया और बालू से ढोके को जोड़ा गया है वह बालू उड़-उड़ के लोगों के नाक में जाता है सुरेकापुरम में बीमारी फैल रही है नालियों को तोड़ दिए हैं पानी जगह-जगह ऊपर बह रहा है किंतु कोई देखने वाला नहीं है जब भ्रष्टाचार का बोलबाला होगा तो सभी अपनी आंख और कान बंद कर लेते हैं
विभाग -शिकायत श्रेणी -
नियोजित तारीख-25-12-2022शिकायत की स्थिति-
स्तर -जनपद स्तरपद -जिलाधिकारी
प्राप्त रिमाइंडर-
प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-
फीडबैक की स्थिति -
संलग्नक देखें -Click here
नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!
अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :
क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित दिनांक आदेश आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति आपत्ति देखे संलगनक
1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 25-11-2022 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, 14-12-2022 आख्या श्रेणी - अन्य कारण
शिकायतकर्ता प्रकरण की आख्या प्रस्तुत है निस्तारित
संदर्भ संख्या : 40019922027513, दिनांक - 03 Jan 2023 तक की स्थिति
आवेदनकर्ता का विवरण :
शिकायत संख्या:-40019922027513
आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्रीमान जी प्रार्थी चाहता है कि आप वाराणसी से प्रकाशित दैनिक जागरण दैनिक समाचार पत्र मंगलवार 6 दिसंबर 2022 का अंक देखें इस अंक में मिर्जापुर समाचार में एक समाचार प्रकाशित हुआ है जिसका शीर्षक है शहर की हर गली और हर मोहल्ले में खोदी गई सड़क जिससे उड़ रहे हैं धूल के गुबार और नागरिकों का बड़ा संकट Sir, the applicant wants you to see the issue of Dainik Jagran daily newspaper published from Varanasi on Tuesday 6th December 2022. In this issue, a news has been published in Mirzapur News titled as Roads dug in every street and every locality of the city through which flying dust particles contaminated the environment. There are clouds of dust and a big crisis for the citizens. श्रीमान जी उपरोक्त समाचार की कटिंग इस शिकायत के साथ संलग्न है जिसमें अधिशासी अभियंता गंगा प्रदूषण इकाई मिर्जापुर श्री संजय कुमार का वक्तव्य भी छपा है उनके अनुसार नगर में अमृत योजना के तहत सीवर और पानी की पाइप डाली जा रही है इसके चलते सड़कें खोदी गई हैं फिलहाल धूल को समाप्त करने के लिए सुबह-शाम पानी का छिड़काव किया जाएगा Sir, the cutting of the above news is attached with this complaint, in which the statement of Executive Engineer, Ganga Pollution Unit, Mirzapur, Mr. Sanjay Kumar has also been published, according to him, sewer and water pipes are being laid in the city under the Amrit scheme, due to which the roads have been dug. At present, water sprinkling will be done in the morning and evening to eliminate the dust. सोचिए सर जो महान मोदी हम लोगों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के प्रति बहुत ज्यादा संवेदनशील हैं उन्हीं के प्रिय हमारे ईमानदार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के इस प्रदेश में किस तरह की अराजकता और बेईमानी है खुद इतना बड़ा गौरवपूर्ण और ऐतिहासिक पेपर यह कह रहा है कि कोई भी कार्य मानक के अनुसार नहीं हो रहा है और लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में न रखकर चारो तरफ गंदगी फैलाई जा रही है ऐसे में लोगों का जीवन दूभर हो गया है लोग बीमारियों से ग्रस्त हो रहे हैं और परियोजना प्रबंधक गंगा प्रदूषण इकाई ने मौन व्रत धारण कर रखा है और शिकायतों में मनमानी आखया लगाकर उनको बंद कर देते हैं Think sir, the great Modi who is very sensitive to the health and safety of our people, what kind of anarchy and dishonesty is there in this state of our beloved honest Chief Minister Yogi Adityanath, such a proud and historical paper itself is saying that someone Even the work is not being done according to the standard and without keeping in mind the health of the people, dirt is being spread all around, in such a way the life of the people has become difficult, people are suffering from diseases and the Project Manager Ganga Pollution Unit has observed silence. Have kept it and close them by putting arbitrary figures in the complaints. श्रीमान जी जनता की समस्याओं की उपेक्षा करना किस तरह से तर्कसंगत है मुझे नहीं मालूम क्योंकि इसकी व्याख्या खुद ही जल निगम के नगरी शाखा के लोग दे सकते हैं क्योंकि वही लोग जनता की सुख सुविधाओं के साथ मनमानी कर रहे हैं और सरकार के फंड को मनमाने तरीके से उड़ा रहे हैं यह किसी भी तरह से उचित नहीं है भ्रष्टाचार इस समय अपनी चरम पर है अंतर केवल यह है कि अब तो प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया भी सरकार के विरुद्ध आ रही हैं जिससे सरकार की सच्चाई जल्द से जल्द निर्दोष जनता तक पहुंच जाएगी और यह लोकतंत्र जो जनता का है जनता शीघ्र से शीघ्र निर्णय करेगी और खुशहाली पुनः लौटेगी यही उम्मीद है
विभाग -शिकायत श्रेणी -
नियोजित तारीख-08-01-2023शिकायत की स्थिति-
स्तर -जनपद स्तरपद -जिलाधिकारी
प्राप्त रिमाइंडर-
प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-
फीडबैक की स्थिति -
संलग्नक देखें -Click here
नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!
अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :
क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित दिनांक आदेश आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति आपत्ति देखे संलगनक
1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 09-12-2022 जिलाधिकारी-मिर्ज़ापुर, 13-12-2022 आख्या श्रेणी - प्रकरण सुझाव श्रेणी का है
शिकायतकर्ता उपरोक्त की जांच आख्या संलग्न है । निस्तारित