Monitoring body is chief minister office of Jansunwai portal, and they must forward grievance to sub divisional magistrate Phulpur as suggested


संदर्भ संख्या : 40017522175227, दिनांक - 17 Jan 2023 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40017522175227

आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्रीमान जी कुछ दिन पूर्व बंदोबस्त अधिकारी फूलपुर द्वारा प्रार्थी के मोबाइल नंबर पर फोन किया गया। और उनके द्वारा बताया गया कि गोवर्धनपुर में चकबंदी का कार्य 5 महीने पहले समाप्त हो गया किंतु गोवर्धनपुर ऑनलाइन चकबंदी हो ना इसलिए दिखाई पड़ रहा है क्योंकि संबंधित स्टॉप तहसील के अभी तक रिकॉर्ड को अपडेट नहीं कर पाए हैं। इसलिए आप द्वारा उप जिलाधिकारी फूल से संपर्क करना वरासत के संबंध में समीचीन होगा ।श्रीमान जी इसलिए गोवर्धनपुर के लेखपाल को निर्देशित किया जाए कि ऐसी अवस्था में वरासत का कार्य संपन्न करें। श्रीमान जी हो सकता है कि आपके यहां पूरे भावा और गोवर्धनपुर के लेखपाल एक ही हूं इसलिए संबंधित लेखपाल का यह दायित्व बनता है कि वह सभी अभिलेख जो शिव बहादुर सिंह पुत्र विजय बहादुर सिंह के नाम हैं उन पर प्रसांत सिंह पुत्र शिव बहादुर सिंह और उमा सिंह पत्नी दिवंगत शिव बहादुर सिंह का नाम दर्ज कराएं। 

Sir, a few days ago the settlement officer Phulpur called on the mobile number of the applicant. And it was told by him that the work of consolidation in Govardhanpur was finished 5 months ago but online consolidation of Govardhanpur is not visible because the concerned stop has not yet been able to update the records of Tehsil. That's why it would be appropriate for you to contact Divisional Magistrate Phool regarding inheritance. Sir, therefore, the Lekhpal of Govardhanpur should be directed to complete the work of inheritance in such a situation. 

Sir, it may be that you have only one Lekhpal of entire Bhava and Govardhanpur, so it is the responsibility of the concerned Lekhpal that all the records which are in the name of Shiv Bahadur Singh so Vijay Bahadur Singh enter the name Prasant Singh so Shiv Bahadur Singh and Uma Singh wife of Late Shiv Bahadur Singh. आवेदनकर्ता का विवरण शिकायत संख्या -40017522172469 आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-An application on behalf of Prasant Singh Son of Shiv Bahadur Singh and Uma Singh wife of Shiv Bahadur Singh to make inquiry regarding the execution of the inheritance in regard to aforementioned beneficiaries. आवेदन संख्या 2022217500889009620 का सफलतापूर्वक राजस्व निरीक्षक द्वारा आदेश कर दिया गया| -राजस्व परिषद, उ० प्र० the copy of this order is attached as the page one of the attached PDF document to this grievance. 

Honorable sir with this grievance the applicant has attached the order passed by the revenue inspector under sub section 2 of section 33 of the revenue code 2006. Revenue inspector Mr Hanuman Prasad Mishra area Karnaipur on 27 November 2022. Which is quite obvious from the first page of the attached document. Following application has been submitted by the applicant on the jansunwai portal of the government of Uttar Pradesh which was forwarded online to the bandobast Adhikari of the Government of Uttar Pradesh. Since the process of consolidation of the land is under practice in gram panchayat Govardhanpur for many years so it is not possible to submit online application for the inheritance so this grievance may be considered as the representation of the aforementioned applicants. . 

आवेदनकर्ता का विवरण शिकायत संख्या -40017522171152 आवेदक का नाम-Yogi M P Singhविषय-श्रीमान जी प्रसांत सिंह द्वारा ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत किया गया है जो ऑनलाइन आवेदन राजस्व ग्राम सराय जीत राय उर्फ पूरे भावा के लिए है ना कि राजस्व ग्राम गोवर्धनपुर के लिए क्योंकि गोवर्धनपुर में कई वर्षों से सरकार द्वारा चकबंदी का कार्य कराया जा रहा है इस वजह से गोवर्धनपुर से संबंधित ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत नहीं किया जा सकता है किंतु सराय जीत राय उर्फ पूरे भावा को का तो आवेदन जहां प्रस्तुत किया जा सकता है वह प्रसांत सिंह द्वारा प्रस्तुत किया

विभाग -चकबंदीशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-02-02-2023शिकायत की स्थिति-

स्तर -जनपद स्तरपद -बंदोबस्त अधिकारी, चकबंदी

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक17-01-2023 को फीडबैक:-If the government is really interested to dispose of the matter then it must forward the matter to the sub divisional magistrate Phulpur district prayagraj as suggested by the settlement officer Phulpur. The applicant expects from the office of the Chief minister government of Uttar Pradesh that it may direct sub divisional magistrate Phulpur as suggested by the settlement officer. 

श्रीमान जी बंदोबस्त अधिकारी चकबंदी फूलपुर, श्रीमान पुष्कर बाबू जी का कहना है कि योगी एमपी सिंह निवासी सुरेकापुरम का प्रस्तुत ग्रीवेंस जिसका संदर्भ संख्या 4001752217 5227 है तथा तारीख 19 दिसंबर 2022 है उसकी आख्या इस प्रकार है। प्रभारी अधिकारी माननीय मुख्यमंत्री हेल्पलाइन संदर्भ को सादर अवगत कराना है की ग्राम सरायजीत राय उर्फ पूरे भावा तहसील फूलपुर जनपद प्रयागराज वर्तमान समय में चकबंदी प्रक्रिया के अंतर्गत नहीं है। प्रार्थी का संदर्भ वरासत से संबंधित है। जिसका निराकरण उपजिलाधिकारी फूलपुर के स्तर से किया जाना संभव है। इसलिए शिकायती प्रार्थना पत्र को उपजिलाधिकारी फूलपुर के सेवा में प्रेषित किए जाने योग्य है जिसका संदर्भ उपजिलाधिकारी फूलपुर द्वारा संज्ञान में लेने योग्य है। इस प्रकार आख्या सादर सेवा में प्रेषित है। 

Sir, Settlement Officer Chakbandi Phulpur, Mr. Pushkar Babu Ji says that Yogi MP Singh resident of Surekapuram submitted Grievance whose reference number is 4001752217 5227 and date is December 19, 2022, its description is as follows. Officer-in-Charge Honourable Chief Minister Helpline Reference is to be informed that village Saraijit Rai alias Poore Bhava Tehsil Phulpur District Prayagraj is not under consolidation process at present. The reference of the applicant is related to inheritance. Which is possible to be resolved at the level of Sub-Collector/sab divisional magistrate Phulpur. Therefore, the complaint application is eligible to be sent to the service of Sub-Collector/ sub divisional magistrate Phulpur, whose reference is to be taken into cognizance by the Sub-Collector / sub divisional magistrate Phulpur. This is how the report is sent in your best regards. Our motive is good governance which can be achieved through transparency and accountability in the working of the public authority.

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी अग्रसारित दिनांक आदेश आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति आपत्ति देखे संलगनक

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 19-12-2022 बंदोबस्त अधिकारी, चकबंदी-प्रयागराज ,चकबंदी 16-01-2023 आख्या श्रेणी - अन्य कारण

40017522175227 निस्तारित