Where is honesty in Uttar Pradesh as public functionaries are shielding corrupt through cunning tricks and targeting innocent. Sugun Singh

 

Grievance Status for registration number : GOVUP/E/2021/56784

Grievance Concerns To
Name Of Complainant
Yogi M P Singh
Date of Receipt
03/10/2021
Received By Ministry/Department
Uttar Pradesh
Grievance Description
An application under Article 51 A of the constitution of India to make enquiry regarding the scam carried out in the purchase of wheat and paddy by the concerned public staffs through brokers and intermediaries. The matter concerns जिला खाद्य एवं विपरण अधिकारी-मिर्ज़ापुर,खाद्य एवं रसद विभाग.शिकायत संख्या:-40019921018972  गेहू और धान की खरीद में ही बहुत बड़े स्केल पर अनियमितता हुई है यदि जिलाधिकारी मिर्ज़ापुर खुद ही भरस्टाचार के प्रकरणों को मनमाने तरीके से हल करेंगे तो एक तरह वे खुद ही जिले में भ्रष्टाचार को पोषित करेंगे जो की स्पस्ट है बिना सारगर्भित जांच के आपने प्रार्थिनी का राशन कार्ड कैंसिल कर दिया इसलिए शीघ्रता से उसे बिना टाल मटोल के उसको बहाल करे तथा ईमानदार अधिकारिओं की टीम से बहुत बड़े घोटाले का खुलासा करे अन्यथा झूठा घंटा पीटते रहे ईमानदारी का और राशन कार्ड बहाली के नाम पर भी कमाई करे Applicant is a widow whose name is Sugun Singh and name of the husband is Late Krishna Kumar Singh. विकास खंड छानवे तहसील -सदर जनपद -मिर्ज़ापुर में राशन कार्ड धारको द्वारा तीन लाख से ऊपर धान और गेहू विक्रय करने वाले राशन कार्ड धारको की सूची में मेरे पुत्र नितिन सिंह का सूची में नाम है जिसका विवरण निम्न है Serial number-271, District- Mirzapur, Farmer ID-1990305426, Farmer-NITIN SINGH, Aadhaar name-AMIT KUMAR, Amount-396763.20 Ration Card ID-219940604126 RC Head of Family Name- SUGUN SINGH, block Name-CHHANVEY, SHOP KEEPAR NAME-MUKESH KUMAR SINGH महोदय प्रधान मंत्री जन धन योजना के तहत यूनियन बैंक में खाता खुलवाने के नाम पर ग्राम के तीन व्यक्तिओं के बुलाने पर प्रार्थिनी पुत्र नितिन सिंह गया और जाने पर कुछ लोग वहा पर फॉर्म पर हस्ताक्षर कराये प्रार्थिनी पुत्र को यह लालच दिया गया की खाता खुलने के पश्चात उनके खाते में प्रधान मंत्री मोदी सर ५०० रूपया महीना भेजेंगे किन्तु आज तक प्रार्थिनी पुत्र को यह नहीं मालुम की प्रार्थिनी पुत्र के नाम से कोई अकाउंट यूनियन बैंक में खुला है या नहीं महोदय कष्टदायी बात यह है की बिना सारगर्भित जांच के आपने प्रार्थिनी का राशन कार्ड कैंसिल कर दिया और आप के कर्मचारी इसमें भी अच्छी खासी कमाई करेंगेFor more details, vide attached documents.  जिला खाद्य एवं विपरण अधिकारी-मिर्ज़ापुर,खाद्य एवं रसद विभाग दिनांक 24-09-2021 को रिपोर्ट प्रस्तुत किये है 
उक्त शिकायत स्पष्ट एवं बिना साक्ष्य रहित है जिससे नियमानुसार निस्तारण किया जाना संभव नहीं है, अतः प्रकरण निस्तारित करने योग्य है
और उक्त के आधार पर प्रकरण बंद कर दिया गया महोदय नितिन सिंह के नाम कौन सा खाता खोला गया है यह अमित  कुमार कौन है ३ लाख ९६ हजार ७ सौ तिरसठ रुपये २० पैसे का धान और गेहू मेरे बेटे नितिन सिंह द्वारा बेचा गया जिसके आधार पर राज्य सरकार द्वारा राशन कार्ड निरस्त किया गया Short submissions are as follows. 1-You may also provide the account details through which transactions were made. 2-You may disclose the detail of the Aadhaar name-AMIT KUMAR who is the link to reach the other members of the scamsters. 3-How the Farmer ID-1990305426, Farmer-NITIN SINGH,was prepared without adopting due procedure of the law? 4-Why blatant misuse of power was not checked but the concerned preferred to cancel the Ration card on the Large scale, injuring the interest of the vulnerable section of the people?
उपरोक्त सूचना तो आपके क्षेत्राधिकार में है इसलिए उक्त सूचना आप उपलब्ध कराये निश्चित रूप से अमित कुमार आप के विभाग से किसी तरह से सम्बंधित है नहीं तो इतना बड़ा घपला मेरे बेटे को मोहरा बना कर अकेला व्यक्ति अमित कुमार नहीं कर सकता आपका का क्या बिगड़ा एक घोटाला के बाद दुसरे की तैयारी करते है मेरा तो राशन कार्ड निरस्त हो गया मुझे तो दंड बिना अपराध के ही मिल गया  कितने शातिर है आप लोग कुछ भी बोलना नहीं चाहते है   ३ लाख ९६ हजार ७ सौ तिरसठ रुपये २० पैसे का धान और गेहू मेरे बेटे नितिन सिंह द्वारा बेचा गया आगे की कार्यवाही तभी संभव  है जब आप ट्रांसक्शन डिटेल्स उपलब्ध कराये और खाते की जानकारी उपलब्ध कराये जिससे की आगे की कार्यवाही संभव हो प्रदेश सरकार के भ्र्ष्टाचार के प्रति ढुलमुल रवैया से कौन नही परिचित है यह केवल ईमानदारी का ढिढोरा पीटती है भ्रष्टाचार खुद करती है ईमानदारी का ढोंग करती है नहीं तो उक्त सूचनाए न दे देते   
Please take appropriate action against wrongdoer-public staff so that pseudo honest people may be exposed before the public who believe in boasting and show off.
Grievance Document
Current Status
Case closed
Date of Action
11/01/2022
Remarks
अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित अधीनस्थ अधिकारी के स्तर पर निस्तारित अवगत कराना है कि उक्त शिकायत जिला पूर्ति कार्यालय से संबन्धित है अतः प्रकरण निक्षेपित करने का कष्ट करे
Rating
Poor
Rating Remarks
It is quite obvious that factual position is, Nitin Singh did not sell any paddy or wheat and some one misused the Ration card through cheating and incompetent personnel of the government of Uttar Pradesh instead of tracing the real culprits in the matter targeting innocent family. To target innocent and gullible people has been daily business in the government of Uttar Pradesh. These things are ramified because of the corruption in the government machinery quite obvious from the current matter. Still our political masters are claiming to provide good governance.
Officer Concerns To
Officer Name
Mr Arun Kumar Dubey, Joint Secretary
Organisation name
Government of Uttar Pradesh
Contact Address
Chief Minister Secretariat Room No.321 U.P. Secretariat, Lucknow
Email Address
bhaskar.12214@gov.in
Contact Number
2226350

1 Comments

Whatever comments you make, it is your responsibility to use facts. You may not make unwanted imputations against any body which may be baseless otherwise commentator itself will be responsible for the derogatory remarks made against any body proved to be false at any appropriate forum.

  1. गेहू और धान की खरीद में ही बहुत बड़े स्केल पर अनियमितता हुई है यदि जिलाधिकारी मिर्ज़ापुर खुद ही भरस्टाचार के प्रकरणों को मनमाने तरीके से हल करेंगे तो एक तरह वे खुद ही जिले में भ्रष्टाचार को पोषित करेंगे जो की स्पस्ट है बिना सारगर्भित जांच के आपने प्रार्थिनी का राशन कार्ड कैंसिल कर दिया इसलिए शीघ्रता से उसे बिना टाल मटोल के उसको बहाल करे तथा ईमानदार अधिकारिओं की टीम से बहुत बड़े घोटाले का खुलासा करे अन्यथा झूठा घंटा पीटते रहे ईमानदारी का और राशन कार्ड बहाली के नाम पर भी कमाई करे

    ReplyDelete
Previous Post Next Post