Where is accountability if arbitrary report is being submitted by the Chauki in-charge without taking perusal of contents Shiv Kumari

 


संदर्भ संख्या : 40019921014529 , दिनांक - 12 Aug 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921014529

आवेदक का नाम-Shiv Kumariविषय-Herewith written application addressed to superintendent of police Mirzapur is attached signed by the aggrieved. सेवा में पुलिस अधीक्षक जिला - मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश , पिन कोड -२३१००१ विषय -सम्बंधित पुलिस द्वारा विषय वस्तु के अनुसार शिकायत का निस्तारण न करने के सम्बन्ध में महोदय श्री मान जी प्रार्थिनी किस आधार पर एक लड़के को जमीन रजिस्ट्री कर सकती है जब की प्रार्थिनी के चार लड़के है जिसमे उन सब का हिस्सा है प्रार्थिनी से जमीन की रजिस्ट्री विनोद द्वारा धोखे से कराई गई है सम्बंधित पुलिस विनोद व उनकी पत्नी के विरुद्ध धोखा धड़ी का मुक़दमा पंजीकृत किया जाय और मुझ ७० वर्ष की वृद्धा को न्याय दिलाये सोचे आज भी प्रार्थिनी कूड़ा बीन कर पेट की छुधा शांत कर रही है श्री मान जी १०७ /११६ से किस तरह से प्रार्थिनी न्याय मिल सकती है जिसका प्रयोग पुलिस द्वारा एहतियात के तौर पर शांति व्यवस्था बनाने के लिए किया जाता है इस लिए अनुरोध है की शिकायत संदर्भ संख्या : 40019921013978 ,आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40019921013978 आवेदक का नाम-Shiv Kumari का निस्तारण गुण दोष के आधार पर किया जाय जिससे प्रार्थिनी को न्याय मिले यह कहा का न्याय है की एक लड़का सारी प्रॉपर्टी धोखे से लेकर बैठ जाय प्रार्थिनी भ्रमित और गुमराह नहीं बल्कि उसे पुलिस गुमराह कर रही है श्री मान जी मुझ वृद्धा को न्याय दिलाये और मेरे धोखेबाज पुत्र व बहू को दण्डित कराये सक्षम न्यायालय द्वारा जिसके लिए ईश्वर आप को प्रेरित करे दिनांक -०५/०८ /२०२१ प्रार्थिनी शिव कुमारी पति शिव शंकर Address- Mohalla- Bhaisahiya tola, Police station- Kotwali Katra, District-Mirzapur PIN code-231001

विभाग -पुलिसशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-12-08-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -थाना स्तरपद -थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक12-08-2021 को फीडबैक:-संदर्भ संख्या 40019921014529 , आवेदनकर्ता का विवरण शिकायत संख्या40019921014529 आवेदक का नामShiv Kumari में चौकी इंचार्ज द्वारा जो रिपोर्ट लगाया गया वही रिपोर्ट तो पहले भी लगाया गया संदर्भ संख्या 40019921013978 ,आवेदनकर्ता का विवरण शिकायत संख्या40019921013978 आवेदक का नामShiv Kumari में जब की इस बार विषय वस्तु भिन्न है श्री मान जी क्या यही गुणवत्ता पूर्ण शिकायतों का निस्तारण है महोदय प्रार्थिनी के हस्ताक्षरित प्रत्यावेदन को नजर अंदाज किया गया जिसमे प्रार्थिनी ने स्पस्ट रूप से लिखा है की प्रार्थिनी भ्रमित और गुमराह नहीं बल्कि उसे पुलिस गुमराह कर रही हैप्रार्थिनी भ्रमित नहीं है वल्कि सम्बंधित पुलिस गोलमटोल जवाब दे कर उच्चाधिकारिओं और प्रार्थिनी को भ्रमित करना चाहती है श्री मान जी पुलिस द्वारा तारीख बदल कर पुनः वही रिपोर्ट लगाना इस बात का द्योतक है की सम्बंधित पुलिस विषयवस्तु का परिशीलन ही नहीं कर रही है जो की सम्बंधित की लापरवाही प्रदर्शित कर रहा है श्री मान जी निवेदन विषयवस्तु का परिशीलनोपरांत गुण दोष के आधार पर सम्बंधित पुलिस रिपोर्ट लगाए जिससे ब्यथा  का गुणवत्ता पूर्ण निस्तारण हो

फीडबैक की स्थिति -फीडबैक प्राप्त

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अधीनस्थ द्वारा प्राप्त आख्या :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी आदेश/आपत्ति दिनांक आदेश/आपत्ति आख्या देने वाले अधिकारी आख्या दिनांक आख्या स्थिति संलगनक

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 05-08-2021 थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-कोतवाली कटरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस 10-08-2021 आख्या संलग्न कर अवलोकनार्थ प्रेषित है। निस्तारित

संदर्भ संख्या : 40019921013978 , दिनांक - 12 Aug 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921013978

आवेदक का नाम-Shiv Kumariविषय-The matter concerns the cheating of a son with the parents and with his own brothers and sisters but Kotwali Katra police is overlooking the matter to register a first information report in the matter. Think about the gravity of the situation that we are being mercilessly beaten and perpetually being harassed and humiliated by our son since year 2015 when we made first complaint quite obvious from the attached documents which are verified by notary. Sir property inherited from ancestors to the parents is not the property of the parents, but it is the property of the children which must be shared equally among them not acquired by one of them cunningly as done by wrongdoer son who cheated his innocent and gullible parents. Victim- Shiv Kumari and her husband Shiv Shankar S/O Late Badri Prasad, whose ages are 71 years and 66 years respectively. Address- Mohalla- Bhaisahiya tola, Police station- Kotwali Katra, District-Mirzapur PIN code-231001 Accused-Vinod Kumar S/O Shiv Shankar and his wife Address- Jangi Road, Kakrahwa Police station- Kotwali Katra, District-Mirzapur PIN code-231001 Accused son is a drinker and after drinking quarrels with the parrents along with her wife. Duo have zero respect to the parents. Now both have exceeded entire limits of modesty and lost etiquette and manners and our lives hell at this stage of life. Now we are facing imputation of snatching the rights of their children because of cunningness of my accused son. Applicant submitted the complaint before the superintendent of the police District-Mirzapur through my advocate on 23 July 2021 which was forwarded by the superintendent of the police to the Katra Kotwali police Mirzapur, but police concerned adopted lackadaisical approach in the matter and overlooked the prayers of the senior citizens like us living lives of the hell because of wrongdoer drunkard Son. Please take a glance of the third and fourth page of the attached PDF document.Please direct the Kotwali Katra police to register a first information report against the accused as aforementioned under appropriate sections of the Indian Penal Code. Whether humiliation of parents by the wrongdoer son and daughter-in-law and cheating not only with the parents but also with brothers is justified?   

विभाग -पुलिसशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-06-08-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -थाना स्तरपद -थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक09-08-2021 को फीडबैक:-शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कि वह दिए गए समाधान से संतुष्ट नही है,क्योंकि किसी भी अधिकारी के द्वारा आवेदक से कोई भी संपर्क नही किया गया है, और बिना जाँच के ही गलत रिपोर्ट लगाई गई है, कृपया समस्या का जल्द से जल्द उचित समाधान किया जाए,

फीडबैक की स्थिति -सन्दर्भ पुनर्जीवित

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी प्राप्त/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 30-07-2021 06-08-2021 थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-कोतवाली कटरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस C-श्रेणीकरण

2 आख्या वरिष्ठ /पुलिस अधीक्षक , मिर्ज़ापुर 10-08-2021 17-08-2021 थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-कोतवाली कटरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस कृपया आवेदक द्वारा दिये गये फीडबैक का अवलोकन कर गुणवत्तापूर्ण आख्या पोर्टल पर अपलोड करें । कार्यालय स्तर पर लंबित

संदर्भ संख्या : 40019921014532 , दिनांक - 12 Aug 2021 तक की स्थिति

आवेदनकर्ता का विवरण :

शिकायत संख्या:-40019921014532

आवेदक का नाम-Shiv Kumariविषय-Everyone knows that proceedings under Section 107/116. Cr. P.C. are only preventive measures and not pure criminal proceedings, but such proceedings are of quasi judicial nature, while the offence of my son is inviting pure criminal proceedings, so my matter is not amenable under section 107/116. Herewith written application addressed to superintendent of police Mirzapur is attached to this representation signed by the aggrieved. Indirectly, police is misleading the aggrieved instead of being instrumental to victim 70 years old in seeking justice.  सेवा में                                                                    पुलिस अधीक्षक                                                      जिला - मिर्ज़ापुर , उत्तर प्रदेश , पिन कोड -२३१००१ विषय -सम्बंधित पुलिस द्वारा विषय वस्तु के अनुसार शिकायत का निस्तारण न करने के सम्बन्ध में महोदय                        श्री मान जी प्रार्थिनी किस आधार पर एक लड़के को जमीन रजिस्ट्री कर सकती है जब की प्रार्थिनी के चार लड़के है जिसमे उन सब का हिस्सा है प्रार्थिनी से जमीन की रजिस्ट्री विनोद द्वारा धोखे से कराई गई है                       सम्बंधित पुलिस विनोद व उनकी पत्नी के  विरुद्ध धोखा धड़ी का मुक़दमा पंजीकृत किया जाय और मुझ ७० वर्ष की वृद्धा को न्याय दिलाये सोचे आज भी प्रार्थिनी कूड़ा बीन कर पेट की छुधा शांत कर रही है श्री मान जी १०७ /११६ से किस तरह से प्रार्थिनी  न्याय  मिल सकती है जिसका प्रयोग पुलिस द्वारा एहतियात के तौर पर शांति व्यवस्था बनाने के लिए किया जाता है इस लिए अनुरोध है की शिकायत संदर्भ संख्या : 40019921013978 ,आवेदनकर्ता का विवरण : शिकायत संख्या:-40019921013978 आवेदक का नाम-Shiv Kumari का निस्तारण गुण दोष के आधार पर किया जाय जिससे प्रार्थिनी को न्याय मिले यह कहा का न्याय है की एक लड़का सारी प्रॉपर्टी धोखे से लेकर बैठ जाय प्रार्थिनी भ्रमित  और गुमराह नहीं बल्कि उसे पुलिस गुमराह कर रही है                                   श्री मान जी मुझ वृद्धा को न्याय दिलाये और मेरे धोखेबाज पुत्र व बहू को दण्डित कराये सक्षम न्यायालय द्वारा जिसके लिए ईश्वर आप को प्रेरित करे दिनांक -०५/०८ /२०२१                                                                                      प्रार्थिनी                                                                                                   शिव कुमारी पति  शिव शंकर  Address- Mohalla- Bhaisahiya tola, Police station- Kotwali Katra, District-Mirzapur PIN code-231001

विभाग -पुलिसशिकायत श्रेणी -

नियोजित तारीख-04-09-2021शिकायत की स्थिति-

स्तर -क्षेत्राधिकारी स्तरपद -क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त

प्राप्त रिमाइंडर-

प्राप्त फीडबैक -दिनांक को फीडबैक:-

फीडबैक की स्थिति -

संलग्नक देखें -Click here

नोट- अंतिम कॉलम में वर्णित सन्दर्भ की स्थिति कॉलम-5 में अंकित अधिकारी के स्तर पर हुयी कार्यवाही दर्शाता है!

अग्रसारित विवरण :

क्र.स. सन्दर्भ का प्रकार आदेश देने वाले अधिकारी प्राप्त/आपत्ति दिनांक नियत दिनांक अधिकारी को प्रेषित आदेश स्थिति

1 अंतरित ऑनलाइन सन्दर्भ 05-08-2021 04-09-2021 क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त-क्षेत्राधिकारी , नगर ,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस अधीनस्थ को प्रेषित

2 अंतरित क्षेत्राधिकारी / सहायक पुलिस आयुक्त (पुलिस ) 09-08-2021 04-09-2021 थानाध्‍यक्ष/प्रभारी नि‍रीक्षक-कोतवाली कटरा,जनपद-मिर्ज़ापुर,पुलिस आवश्यक कार्यवाही करने का कष्ट करें एवं आख्या प्रेषित करें कार्यालय स्तर पर लंबित